छात्रों को बिना शिक्षा सामग्री के हो रही असुविधा


मनोज भाटिया, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।


वैसे तो इस महामारी कॅरोना ने छात्रों समेत सभी की कमर तोड़ दी है, परंतु सरकार के निर्देशानुसार विद्यालय व महाविद्यालय ने ऑनलाइन शिक्षा प्रारम्भ कर दी है। अध्यापक ज़ूम सहित कई अन्य सॉफ्टवेयर के माध्यम से पढ़ाने का प्रयास कर रहे है, वही छात्रों को प्रस्तावित पुस्तके व रजिस्टर इत्यादि पाने में काफी दिक्कतों का सामना कर पड़ रहा है, क्योंकि बिना शिक्षण सामग्री के नई कक्षा की पढ़ाई काफी कठिन पड़ रही है। इन संबंध में प्रमुख पुस्तक विक्रेता एवं व्यापारी नेता संजय क्वालिटी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमे जनहित में हमे सरकार की गाइड लाइन के अनुसार दुकान खोलने में कोई आपत्ति नही है। बशर्ते प्रशाशन इसकी इजाजत दे। उन्होंने छात्रहित में व समाज निर्माण हित में पुस्तक विक्रेता को सशर्त इज़ाज़त दिया जाना आवश्यक है।



वरिष्ठ पत्रकार खतौली, (मुजफ्फरनगर) उत्तर प्रदेश