बारहमासा

शिक्षा वाहिनी सामचार पत्र।


चैत्र माह में गुड़ मत खाना


दिन उगते ही चने चबाना


आए जब वैशाख महीना


तेल छोड़ बेल - रस पीना।


जेठ मास राई मत खाओ,


बीस मिनट दिन में सो जाओ।


मत आषाढ़ बेल फल खाना


खेल-कूद में लगन बढ़ाना।।


सावन नींबू खाना छोड़ो,


बाल-हरड़ से नाता जोड़ो।


भादों माह मही मत खाना,


तिक्त वस्तु का लाभ उठाना।।
क्वार करेला कभी न खाना,


लेकिन गुड़ से हाथ मिलाना।


कार्तिक माह दही मत खाना,


किन्तु आँवले को अपनाना ।।


अगहन में जीरा मत खाना,


तेल युक्त भोजन अपनाना।


पौष माह में धनिया छोड़ो,


दुग्धपान से नाता जोड़ो।।


माघ माह में मिश्री छोड़ो,


घी-खिचड़ी भोजन में जोड़ो।


फाल्गुन माह चने मत खाना,


प्रातःकाल अवश्य नहाना।।