DM व CDO ने हरी झण्डी दिखाकर 7वीं आर्थिक गणना का किया शुभारम्भ, विकास कार्यो की समीक्षा भी की, गरीब, बेसहारा, निराश्रितों को कम्बल भी बांटे


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने आज विकास भवन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये कि शासन की मंशा के अनुरूप कार्य किया जाये। उन्होने कहा कि विकास कार्याे मे किसी भी प्रकार की शिथिलता पर कडी कार्यवाही होगी। सभी अधिकारी केन्द्र सरकार एवं प्रदेश सरकार की संचालित सभी योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति तक पहुचाना सुनिश्चत करे। उन्होने कहा कि ग्राम वासियों को बिजली की आपूर्ति, पेयजल एवं अन्य सभी आवश्यक बुनियादी सुंविधाएं उपलब्ध कराई जाये। उन्होने निर्देश दिये कि शासन की जो कल्याणकारी योजनाए चल रही है उनकी प्रगति से अवगत कराया जाये। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी से, मातृ वन्दना योजना, आयुषमान योजना, कन्या सुमंगला योजना, सीएचसी व पीएचसी में सर्दी के दृष्टिगत कम्बलों व अलाव की व्यवस्था, डाक्टरों की उपलब्धता एवं दवाईयों की उपलब्धता के सम्बन्ध में समीक्षा की।



जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि विकास कार्यो मे किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नही की जायेगी। उन्होने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप सभी अधिकारी शासन द्वारा संचालित समस्त  योजनाओं का लाभ समाज के पात्र व्यक्तियों तक पहुंचायें। जिलाधिकारी द्वारा पेंशन योजनाओ की भी समीक्षा की गयी। उनहोने निर्देश दिये कि योजनाओं में प्राप्त आवेदन पत्रों का सत्यापन करा लिया जाये, इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाये। उन्होने विधवा पेशन, विकलांग पेशन, वृद्वावस्था पेशन व छात्रवृत्ति की समीक्षा की। उन्होने निर्देश दिये कि सभी पात्रों को आवेदन कराकर योजना का लाभ दिया जाना सुनिश्चित करे। उन्होने प्रधानमंत्री आवास योजना एवं मनरेगा तथा राशन वितरण की भी समीक्षा की।  उन्होने पाईप पेय जल योजना की समीक्षा करते हुए कडे निर्देश दिये कि पाईप पेय जल योजनाओ को सुचारू रूप से संचालित किया जाये।



उन्होने कहा कि जो पेय जल योजना किन्ही कारणो से बन्द है उन्हे ठीक कराकर चालू कराया जाये, इसमे किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाये। जिलाधिकारी ने बीएसए से मिड डे मील आदि की समीक्षा की। उन्होने जिला पंचायत राज अधिकारी से प्रत्येक ग्राम पंचायत में खेल मैदान की भूमि चिन्हित किये जाने के निर्देश दिये।उन्होने ग्रामों में पंचायत भवन को सही कराने के निर्देश भी दिये। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने जनपद में चल रही 50 लाख रूपये से ऊपर की परियोजनाओ के निर्माण कार्याे को शीघ्र पूर्ण कराने, शासन द्वारा आवंटित धनराशि के प्रयोग व यूसी भेजे जाने के निर्देश कार्यदायी संस्थाओं को दिये। इसके पूर्व जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी ने संयुक्त रूप से आज विकास भवन सभागार से 7वीं आर्थिक गणना का हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ भी किया।



जिलाधिकारी ने आज प्रातः अत्यधिक ठण्ड के दृष्टिगत शासन की मंशा के अनरूप गरीब, बेसहारा, निराश्रितों को अपने कार्यालय कक्ष मे बुलाकर कम्बलों का वितरण किया। कम्बल पाकर उन्होने जिलाधिकारी का धन्यवाद भी किया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, पीडी सहित सभी जिलास्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।