पत्रकार वार्ता में डाॅ.संजीव बालियान ने ली हार की जिम्मेदारी, नवनिर्वाचित सांसद को नकारात्मकता छोड़, सकारात्मक राजनीति करने की दी सलाह

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। चुनाव परिणाम के बाद केन्द्र में नई सरकार के गठन के बाद यहां से सांसदी हारे संजीव बालियान ने आज पत्रकारों के सम्मुख अपनी हार स्वीकारते हुए जहां पूरी विनम्रता का परिचय दिया, वहीं उन्होंने पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में छुपी कठोरता का परिचय देते हुए कहा कि जिसने भी चुनाव में जिस तरह से कार्य किया है, उसका प्रतिफल उन्हें उसी तरह से प्राप्त होगा। इस अवसर पर उन्होंने अपने 10 साल के कार्यकाल में जनपद में कराये गये जनहित व विकास के कार्यों को भी गिनाया। उन्होंने अपने संसदीय क्षेत्र की सीमा पर स्थापित किये जा रहे खेल विश्वविद्यालय का उल्लेख भी विशेष रूप से किया। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में किसानों के गन्ना मूल्य के भुगतान का रिकार्ड बना है। उन्होंने बताया 300 करोड़ का भुगतान एक साथ कराया गया था। उन्होंने कहा कि उन्हें जनपद के लोगों का बहुत सारा प्यार व सम्मान प्राप्त हुआ है और आशा है आगे भी मिलता रहेगा। 

स्थानीय सरकुलर रोड़ स्थित एक होटल में आयोजित पत्रकारों से वार्ता करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद डाॅ.संजीव बालियान ने नवनिर्वाचित सांसद को जीत की बधाई देते हुए कहा कि उन्हें नाकारात्मक राजनीति की जगह उन जनहित व विकास की उन बातों पर ध्यान देना चाहिए, जो किन्हीं कारणों से पूरी नहीं हो पायी हैं। उन्हांेने कहा वे जनपद के एक विश्वविद्यालय, एक मेडिकल काॅलेज सहित जनपद में एक इंडस्ट्रियल एरिया बनाने के लिए प्रयासरत थे, जिनमें मेडिकल काॅलेज उस पाॅलिसी के तहत नहीं बन पाया था, क्योंकि पाॅलिसी के तहत जहां कोई नीजि मेडिकल काॅलेज हो, वहां सरकारी मेडिकल काॅलेज नहीं बनाया जा सकता। डाॅ. संजीव बालियान न बताया कि वे उक्त पाॅलिसी में बदलाव के लिए प्रयासरत थे और उसमें काफी हद तक उन्हें सफलता भी प्राप्त हो गयी थी। इसके साथ जनपद में डेडिकेटिड फ्रेट काॅरिडोर का निमार्ण होने के बाद यहां इंडस्ट्रीज के लिए स्कोप काफी बढ़ गया है, क्योंकि अब पूरे देश से कच्चा या तैयार माल यहां और यहां से कच्चा व तैयार माल देश के किसी भी कोने में आसानी से लाया या भेजा जा सकता है। उन्होंने कहा कि जनपद में एक यूनिवर्सिटी की बेहद जरूरत है, जिसके लिए वे काफी प्रयासरत थे और काफी हद तक उन्हें इस कार्य में सफलता भी प्राप्त हो रही थी। उन्होंने कहा नवनिर्वाचित सांसद को इन अपूर्ण परियोजना पर अपना ध्यान केन्द्रित करना चाहिए। उन्होंने कहा जनहित इन कार्यो में सहयोग देने के लिए हमेशा तैयार हैं। उन्होंने कहा आरआरटीएस मेरठ तक आ चुकी है और मुजफ्फरनगर के लिए रोड़मैप तैयार हो चुका है। अब जरूरत है कि इस कार्य को आगे बढ़ाने के कार्य में गति बनाये रखी जाये। उन्होंने कहा कि इस कार्य में वे नवनिर्वाचित सांसद का हर तरीके से सहयोग करने के लिए तैयार हैं।

डाॅ.संजीव बालियान ने अपने कार्यों एवं कार्यशैली के सम्बन्ध में कहा कि 2014 के बाद जनपद ने तीन-चार बड़ी आपदाएं झेली हैं, जिनमें खतौली का ट्रेन एक्सीडेंट, कोरोना काल सहित सीएए के दौरान जनपद में गडबडी करने की कोशिश के समय वे आमजन के साथ प्रशासन व पुलिस से पहले मौके पर पहुंच गये थे और डेमेज कंट्रोल करने में पूरे तन, मन व धन से जुट गये थे। उन्होंने कहा कि अपने पूरे राजनीतिक जीवन में उनका पूरा-पूरा प्रयास रहा है कि वे सभी तक पहुंच पायें। 

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि खतौली विधानसभा के गांव मढ़करीमपुर में उनके काफिले पर पथराव की घटना हुई थी, लेकिन उस गांव से उन्हें भारी संख्या में मत प्राप्त हुए, इससे साबित होता है कि उनपर किया गया हमला सुनियोजित था। उन्होंने कहा कि नवनिर्वाचित सांसद नकारात्मकता को छोड़कर सकारात्मकता के साथ विकास व जनहित के कार्यों पर ध्यान दें। उन्होंने कहा कि मैं विपक्ष की भूमिका में रहूंगा और जहां भी किसी को उनकी जरूरत होगी, वे हमेशा तैयार रहेंगे। उन्होंने कहा कि मुस्लिम मतों का ध्रुवीकरण और हिन्दू मतों को जातियों में बंटना और कम मतदान उनकी हार का कारण रहा। उन्होंने कहा कि कमोबेश यही स्थिति पूरे प्रदेश में रही।

इस अवसर पर मेरठ जनपद के भाजपा जिलाध्यक्ष शिव कुमार राणा, मुजफ्फरनगर के भाजपा जिलाध्यक्ष सुधीर सैनी, जिला पंचायत अध्यक्ष वीरपाल निर्वाल, अभिषेक गुर्जर आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।


Comments
Popular posts
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धरेच में आयोजित दश दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर सम्पन्न
Image
एडीएम वित्त ने मारा छापा, तहसील के क्वार्टर में सरकारी कामकाज करते पकड़ दो बाहरी व्यक्ति
Image
लेखपालों के पास कुछ प्राइवेट हेल्परों को कार्य करते हुए रंगे हाथ पकड़ा
Image
जिलाधिकारी मनीष बंसल ने किया कलेक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण
Image
राजस्व परिषद के अध्यक्ष डॉ0 रजनीश दुबे ने किया कलैक्ट्रेट के विभिन्न पटलों, कंट्रोल रूम का निरीक्षण, राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक भी की, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी के पेशकार को निलम्बित करने के निर्देश
Image