प्रधानमंत्री ने वर्चुअल किया जानसठ तहसील के ग्राम नंगला बुजुर्ग में निर्मित अटल आवासीय विद्यालय का लोकार्पण

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर प्रधानमंत्री ने रुद्राक्ष इंटरनेशनल कन्वेशन सेंटर वाराणसी से उ0प्र0 के 16 अटल आवासीय विद्यालयो का लोकार्पण वर्चुअल माध्यम से किया। इस अवसर पर सहारनपुर मण्डल के जनपद मुजफ्फरनगर की तहसील जानसठ के नंगला बुजुर्ग में 15 एकड़ भूमि पर लगभग 72 करोड की लागत से निर्मित अटल आवासीय विद्यालय का भी लोकार्पण किया गया। इस वर्चुअल कार्यक्रम का सजीव प्रसारण बच्चो एवं अभिभावको द्वारा देखा गया।

अटल आवासीय विधालयों के माध्यम से अब श्रमिकों एवं कोरोना काल के गाल में समा गये ऐसे परिवार जिनके बच्चों के सर से माता पिता का साया नही रहा, उनकी शिक्षा पूर्ण नही हो पायी, ऐसे बच्चों को अटल आवासीय विधालयों मे कक्षा 6 से कक्षा 12 तक निशुल्क शिक्षा प्रदान की जायेगी। उन्होने कहा कि शिक्षा के साथ साथ खेल कूद, पुस्तकालय, भोजन, रहने आदि की व्यवस्था निशुल्क दी जायेगी। आज हमारे स्कूल आधुनिक बन रहे है, क्लास स्मार्ट हो रही है। इन स्कूलो के माध्यम से शिक्षा के स्तर में और सुधार देखने को मिलेगा। गरीब के बच्चे भी सर्वागीण शिक्षा प्राप्त करेगे। उन्होने कहा कि इन भव्य स्कूलो का निर्माण समाज के सबसे कमजोर वर्ग के बच्चो के लिये किया गया है। ये बच्चे इन स्कूलो में अध्यन कर संगीत कला, कम्प्यूटर क्राफ्ट एवं स्पोटर्स में पारंगत हो सकेगे तथा गरीब के बच्चे भी सर्वागीण शिक्षा प्राप्त कर पायेगे। आने वाले वर्षाे मे इन स्कूलो के बच्चे उ0प्र0 की आन-बान-शान बनेगे। उन्होने बच्चो से संवाद करने के बाद कहा कि यह बहुत सामर्थवान बच्चे है ।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 18 मण्डलो में 16 अटल अवासीय विद्यालय बनकर तैयार हो गये है तथा शेष 02 विद्यालय अगले 02 माह में प्रारम्भ हो जायेगे। उन्होने कहा कि इन विद्यालयो को मा0 प्रधानमंत्री जी की प्रेरणा से ही बनाया जाना सम्भव हुआ। उन्होने कहा कि इन स्कूलो को कौशल विकास, खेल-कूद के साथ राष्ट्रीय शिक्षा नीति के आधार पर तैयार किया गया है।
कौशल विकास विभाग के स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने कार्यक्रम में सम्बोधित करते कहा कि आज का दिन गौरव का दिन है। जब अन्तिम छोर पर बैठे व्यक्ति के चेहरे पर मुस्कान आयेगी, क्योकि जो व्यक्ति गरीब है बच्चो को पढाने में सक्षम नही है, उनके बच्चे प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के प्रयासो से उच्च शिक्षा प्राप्त कर देश-विदेश में अपने नाम के साथ अपने माता-पिता व देश का नाम रोशन कर सकेगे। जिला पंचायत अध्यक्ष वीरपाल निर्वाल ने कहा कि यह प्रधानमंत्री की महत्वकांक्षी योजना है, इस योजना से श्रमिको के बच्चे भी उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेगे।
बता दें कि सहारनपुर मण्डल के अटल आवासीय विद्यालय में निर्माण श्रमिकों के बच्चों एवं निराश्रित बच्चों के लिए उत्तम शिक्षा की व्यवस्था तथा 1000 छात्र अध्ययन-अध्यापन कर सकते है। इसमें निःशुल्क आवास मे रहने की सुविधा के साथ शिक्षा, निःशुल्क भोजन एवं पौष्टिक आहार, सीबीएससी/राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 पर आधारित पाठयक्रम, पुस्तकालय, स्मार्ट क्लास, कम्प्यूटर लैब, साइंस लैब एवं एस्ट्रोनॉमी लैब, इनडोर एवं आउटडोर खेलकूद की व्यवस्था, परामर्श एवं कैरियर मार्गदर्शन सत्र, कौशल, तकनीकी, व्यावसायिक एवं मूल्य आधारित शिक्षा, योग शिक्षा आदि सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इस सत्र के लिये 80 छात्र-छात्राओ को निःशुल्क शिक्षा सहित समस्त सुविधाये उपलब्ध होगी। 
इस अवसर पर मण्डलायुक्त हृषिकेश भास्कर यशोद, जिलाधिकारी अरविन्द मल्लप्पा बंगारी, मुख्य विकास अधिकारी संदीप भागिया, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व गजेन्द्र कुमार, जिलाध्यक्ष बीजेपी सुधीर सैनी, उप श्रमायुक्त अनुपमा गौतम, सहायक श्रमायुक्त राजकुमार, प्राचार्य ज्योति मखीजा सहित संबंधित विभागोें के वरिष्ठ अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।
Comments
Popular posts
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धरेच में आयोजित दश दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर सम्पन्न
Image
एडीएम वित्त ने मारा छापा, तहसील के क्वार्टर में सरकारी कामकाज करते पकड़ दो बाहरी व्यक्ति
Image
लेखपालों के पास कुछ प्राइवेट हेल्परों को कार्य करते हुए रंगे हाथ पकड़ा
Image
जिलाधिकारी मनीष बंसल ने किया कलेक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण
Image
राजस्व परिषद के अध्यक्ष डॉ0 रजनीश दुबे ने किया कलैक्ट्रेट के विभिन्न पटलों, कंट्रोल रूम का निरीक्षण, राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक भी की, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी के पेशकार को निलम्बित करने के निर्देश
Image