सीएमओ ने किया विशेष टीकाकरण अभियान का शुभारंभ

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। बच्चों को बीमारियों से बचाने के लिए सोमवार से विशेष टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। जिसका शुभारंभ मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने किया। इसके तहत जिले के हर ब्लॉक में टीकाकरण से छूटे बच्चों का टीकाकरण किया जा रहा है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने विशेष टीकाकरण पखवाड़ा के तहत इंद्रा कॉलोनी,गाजा वाली नगरीय स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर टीकाकरण का जायजा लिया और बच्चों को शत-प्रतिशत टीकाकरण कराए जाने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों को प्रेरित भी किया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने बताया कि 13 जानलेवा बीमारियों से बचाव के लिए 11 प्रकार के टीके बच्चों को लगाए जाते हैं। बच्चों के लिए टीकाकरण बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण अभियान को शत-प्रतिशत सफल बनाने के लिए सभी को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। उन्होंने बताया कि गांव-गांव, घर-घर जाकर पांच वर्ष तक के बच्चों को टीका लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि विभाग का प्रयास रहेगा कि कोई भी बच्चा टीका लगवाने से वंचित न रह जाए, इसके लिए सभी जरूरी कदम उठाए गए हैं। उन्होंने बताया कि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए इसका भी पूरा ख्याल रखा गया है।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. विपिन कुमार ने बताया कि विशेष टीकाकरण अभियान का पहला चरण सोमवार से शुरू हुआ और यह 20 जनवरी चलेगा। उन्होंने बताया कि इस अभियान का दूसरा चरण 13 से 24 फरवरी व तीसरा चरण 13 से 24 मार्च तक चलेगा। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण के लिए आशा एवं एएनएम के माध्यम से हेड काउंट सर्वे के आधार पर बच्चों का टीकाकरण कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पांच वर्ष से कम उम्र के सभी बच्चों को सूचीबद्ध कर उनके टीकाकरण की स्थिति का आंकलन कर ई-कवच पोर्टल पर फीड कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा नियमित टीकाकरण कार्यक्रम हर बुधवार और शनिवार को पूर्व की तरह चलेगा।
उन्होंने बताया कि विशेष टीकाकरण पखवाड़ा के लिए कराए गए सर्वे के अनुसार जिले में 508010 बच्चों का टीकाकरण कराया जाएगा, जिसमें पेन्टा-1,पेन्टा-2,पेन्टा-3 और एम0आर0 1 व एम0आर0 2 की 52160 डोज छूटी मिली। उन्होंने बताया कि  सोमवार जिले में सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर बच्चों का टीकाकरण किया गया।
इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ0 विपिन कुमार, जिला सहायक प्रतिरक्षण अधिकारी प्रदीप कुमार शर्मा, नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सरवट प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ0 रमन कुमार व सहयोगी संस्था यूनिसेफ से तरन्नुम, एसएमओ डब्लूएचओ से  डॉ0 ईशा गोयल व वीसीसीएम इमरान खान उपस्थित रहे।