प्रजापिता ब्रहमा बाबा की 54वीं पुण्यतिथि पर बागपत में श्रद्धांजलि दी

विवेक जैन, बागपत। शहर के भजन विहार कॉलोनी स्थित ब्रहमाकुमारी मेडिटेशन सेंटर पर प्रजापिता ब्रहमा बाबा जी की पुण्यतिथि पर उनको याद किया गया और श्रद्धासुमन अर्पित किये गये। ब्रह्माकुमारी  मेडिटेशन के अनुयायियों द्वारा बाबा की महान व्यक्तित्व, दूरदर्शिता और महानता के गुणों को एक-दूसरे के साथ साझा किया गया और जीवन के सही उद्देश्य को जानने के लिए बाबा के दिखाये रास्ते पर चलने का आहवान किया गया।

इस अवसर पर ब्रहमाकुमारी मेडिटेशन की जिला प्रभारी गीता दीदी ने कहा कि प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय के संस्थापक ब्रह्मा बाबा बहुत ही पुण्य आत्मा थे। उन्होंने अपने जीवन में कठिन तपस्या की। बाबा का कहना था कि गुरु हमारा मार्गदर्शन करता है। कहा कि हम सभी आत्मायें है और हमारा मुख्य उद्देश्य सत्य परमात्मा को प्राप्त करने का होना चाहिए। यदि हमें अपने प्रयासों से सत्य परमात्मा की प्राप्ति नही हो रही है तो भी हमें विचलित नही होना है व हार नही माननी है बल्कि और अधिक दृढसंकल्प शक्ति के साथ उस परम शक्ति को खोजने के लिए सदा प्रयासरत रहना चाहिए। कहा की बाबा की परख शक्ति और इच्छा शक्ति बहुत ज्यादा थी। गीता दीदी ने कहा कि हमें अपने जीवन में सुख व शांति की प्राप्ति हेतु ध्यान करना चाहिए और शुद्ध विचारों को जीवन में धारण करना चाहिए। कहा कि विचार की शुद्धि शुद्ध जीवन का आधार है। प्रत्येक मानव को अपने जीवन में विचारों की पवित्रता व मानसिक दृष्टिकोण में शुद्धता लानी चाहिए इसी से सुंदर और स्वस्थ समाज का निर्माण होगा।

इस अवसर पर केंद्रीय विद्यालय एयर फोर्स चांदीनगर के प्रधानाचार्य संजय कुमार, केंद्रीय विद्यालय बावली के प्रधानाचार्य नीरज कुमार, सरिता दीदी सहित अनेकों वक्ताओं ने उपस्थित लोगों को बाबा की महानता और मेडिटेशन के फायदों से अवगत कराया। अन्त में बाबा के अनुयायियों ने ब्रहमा बाबा के चित्र के सम्मुख पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजली दी और प्रसाद ग्रहण किया। ब्रहमाकुमारी मेडिटेशन सेंटर की पल्लवी दीदी ने माउंट आबू राजस्थान से दूरसंचार माध्यम द्वारा ब्रहमा बाबा के प्रति अपने विचार प्रकट किये और श्रद्धांजली अर्पित की। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सम्मानित वरिष्ठ पत्रकार विपुल जैन, नीरज वर्मा सहित सैंकड़ों की संख्या में बाबा के अनुयायी उपस्थित थे।