जिलाधिकारी ने की 31 नग नई पेयजल योजनाओं की संस्तुति

गौरव सिंघल, सहारनपुर। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जल जीवन मिशन हर घर जल कार्यक्रम के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा 7611 लाख रुपए से अधिक लागत की 31 नग नई पेयजल योजनाओं के निर्माण हेतु स्वीकृति की गई, जिसमें से 30 नग 05 करोड से कम है एवं 01 नग 05 करोड से अधिक है। इन योजनाओं में से मैसर्स गायत्री रेमकी जेवी द्वारा 10 तथा एनकेजी प्राइमर्स द्वारा 20 योजनाओं का निर्माण किया जाना है। इसके साथ ही साथ 05 करोड से अधिक लागत की एक योजना का निर्माण एनकेजी प्राइमर्स फर्म द्वारा किया जायेगा। 

डीएम ने निर्देश दिये कि घाड क्षेत्र में डीपीआर को प्राथमिकता दी जाए और सुनिश्चित किया जाए कि अप्रैल से पहले ही घाड क्षेत्र में पानी की उपलब्धता हो सके। फर्म प्रतिनिधियों को कार्य में प्रगति बढ़ाने हेतु एवं अधिशासी अभियंता उत्तर प्रदेश जल निगम ग्रामीण को नियमित अनुश्रवण हेतु निर्देशित किया। उन्होने निर्देश दिए कि पोर्टल पर सूचनाएं समय से अपलोड की जाएं। जहां पर जल की कमी है वहां इस योजना को प्राथमिकता दी जाए। जल जीवन मिशन भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना है। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। पेयजल योजनाओं का निर्माण ससमय एवं गुणवत्तापूर्ण कराया जाए। उन्होने निर्देश दिये कि पाईप डालने के लिए सडक को कटर से काटा जाए और बाद में उसे मरम्मत कराकर पुर्नस्थिति में लाया जाए। मरम्मत के कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही स्वीकार्य नहीं होगी। 

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार, अधिशासी अभियंता जल निगम ग्रामीण अमित कुमार एवं सहायक अभियंता अनुज कुमार सहित अन्य अधिकारी व फर्म प्रतिनिधि उपस्थित रहे।