पूर्व एमएलसी इकबाल उर्फ बाल्ला और जेल में बंद उसके भाई व पुत्रों समेत सात के खिलाफ जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज

गौरव सिंघल, सहारनपुर। पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल उर्फ बाल्ला पर पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। जिले की थाना बेहट पुलिस ने 50 हजार के इनामी इकबाल उर्फ बाल्ला एवं जेल में बंद उसके भाई पूर्व बसपा एमएलसी महमूद अली, पुत्र अब्दुल वहीद, वाजिद और जावेद एवं अफजाल एवं वासिल के खिलाफ जानलेवा हमले का मामला दर्ज कराया गया है। 

थाना प्रभारी बृजेश पांडे ने आज बताया कि थाना देहात कोतवाली के मंड़ी समिति रोड़ मदनपुरी कालोनी निवासी सुहैल पुत्र फजलू ने इन लोगों के खिलाफ यह रिपोर्ट दर्ज कराई है। रिपोर्ट में सुहैल ने आरोप लगाया कि उनकी मिर्जापुर स्थित ग्लोकल यूनिवर्सिटी में तीन बीघा जमीन थी। नामजद आरोपियों ने 2007-08 में उनके पिता फजलू पर गैर जरूरी दबाव बनाकर उस जमीन का बैनामा करा लिया था। कुछ जमीन बच गई थी। उस पर भी आरोपियों ने जबरन कब्जा कर लिया।

थाने में दर्ज शिकायत में सुहैल ने कहा कि एक दिसंबर को वह विकास नगर स्थित अपने रिश्तेदारी में गया था। वापसी कस्बा बेहट में बिजली घर के पास उस पर पिस्टल से फायर किया गया। इससे वह बाइक से नीचे गिर गया और घायल हो गया। तब उसने वहां से भागकर अपनी जान बचाई।