श्री राम ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेज में दूसरी विश्वस्तरीय कार्यशाला आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। श्रीराम ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेज के प्रबंधन विभाग में इस वर्ष लीडर्स कनेक्ट श्रृंखला का आयोजन किया जा रहा है। यह एक विश्वस्तरीय कार्यशालाओं तथा अतिथि व्याख्यानों की श्रृंखला है। इसी क्रम में आज दूसरे अतिथि व्याख्यान एवं कार्यशाला श्रंखला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर श्रीराम ग्रुप ऑफ़ कालिजेज के चेयरमैन डॉ. एससी कुलश्रेष्ठ, श्री राम ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेज के निदेशक डॉ. आलोक गुप्ता, श्री राम कॉलेज के निदेशक डॉ. अशोक कुमार, श्री राम कॉलेज ऑफ़ फार्मेसी के निदेशक डॉ. गिरेन्द्र गौतम, डीन आईक्यूऐसी डॉ. विनीत कुमार शर्मा, डीन मैनेजमेंट डॉ. सौरभ मित्तल, श्रीराम कॉलेज ऑफ़ इंजीनियरिंग के कंप्यूटर ऍप्लिकेशन्स विभागाध्यक्ष डॉ पवन गोयल तथा प्रबंधन संकाय के विभागाध्यक्ष डॉ. अशफ़ाक़ अली उपस्थित रहे।

इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता विश्वविख्यात टेड एक्स स्पीकर, एग्जीक्यूटिव कोच, तथा पूर्व पैरा कमांडो (विशेष बल) रिटायर्ड मेजर दीपक अय्यर रहे। मेजर दीपक अय्यर मुंबई हमले में शहीद हुए मेजर संदीप उन्नीकृष्णन के कनिष्ठ भी रहे चुके हैं। कार्यशाला के अंतर्गत ’’सक्सेस सीक्रेट्स फ्रॉम ए कमांडो’’ विषय पर मेजर दीपक ने अपने विचार व्यक्त किये। इस कार्यशाला के अंतर्गत प्रबंधन तथा तकनीकी छात्रों को सेना के कमांडो जीवन पर आधारित प्रबंधन के सिद्धांतों तथा तकनीकों से सूक्ष्म रूप से परिचित कराते हुए उनके अनुपालन पर चर्चा की गयी। मेजर अय्यर द्वारा व्यक्तित्व विकास के उन पहलुओं को विस्तार से समझाया गया जिनका उपयोग करके एक साधारण व्यक्ति भी अपने कार्य तथा अपनी संस्था के अंतर्गत कमांडो की भांति अपना सर्वश्रेष्ठ दे सकता है। मेजर अय्यर ने कॉलेज तथा प्रबंधन विभाग के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि मुज़फ्फरनगर जैसे क्षेत्र में युवाओं के लिए इस प्रकार का आयोजन तथा श्री राम कॉलेज के प्रयास वास्तव में प्रशंसनीय हैं। उन्होंने लीडर्स कनेक्ट सीरीज जैसी श्रृंखला के आयोजन तथा ऐसे आयोजन में उन्हें आमंत्रित करने हेतु श्रीराम ग्रुप आफ कॉलेजेज के चेयरमैन डॉ. एससी कुलश्रेष्ठ का धन्यवाद किया। 
डॉ. एस सी कुलश्रेष्ठ ने कार्यशाला में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि श्री राम ग्रुप ऑफ़ कॉलेजेज का मुख्य उद्देश्य छात्रों को मुज़फ्फरनगर जैसे क्षेत्र में विश्व स्तरीय शिक्षा प्रदान करना है। इसी क्रम में वह तथा समस्त कॉलेज स्टाफ निरंतर कार्यरत है। लीडर्स कनेक्ट श्रृंखला अपने आप में एक विशिष्ट पहल है जिसका लाभ छात्रों के लिए अत्यंत दूरगामी सिद्ध होगा। इस अवसर पर उन्होंने प्रबंधन विभाग के प्रयासों की भी जमकर सराहना की। कार्यक्रम में बी टेक तथा एम बी ए के लगभग 400 छात्रों ने प्रतिभाग  किया।  कार्यक्रम के अंत में मेजर दीपक अय्यर तथा उनकी पत्नी का स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर प्रबंधन के विभागाध्यक्ष डॉ. अशफ़ाक़ अली ने कार्यशाला की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए इसके प्रभावों तथा उपयोगिता पर चर्चा की। कार्यक्रम के समन्वयक अतुल रघुवशी रहे तथा कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रबंधन विभाग से राजीव रावल, मोहम्मद दानिश, श्रुति मित्तल आदि का सहयोग रहा।