नमक सत्याग्रह में भाग लेने वाले सहारनपुर के 98 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी सुरेंद्र गर्ग का निधन, परिजनों ने दान कर दी उनकी देह



गौरव सिंघल, सहारनपुर। अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के ऐतिहासिक नमक सत्यागृह में शामिल रहे सहारनपुर के 98 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी सुरेंद्र गर्ग का बीती रात गाजियाबाद जिले के इंदिरापुरम स्थित आवास पर हृदय गति रूकने से निधन हो गया। परिजनों ने रविवार को उनकी पार्थिव देह को उनकी इच्छानुसार एम्स नई दिल्ली को सौंप दी। उससे पूर्व जिला प्रशासन गाजियाबाद की ओर से उनके पार्थिव शव को गार्ड आॅफ आनर दिया गया। सैकडों की संख्या में उन्हें गणमान्य लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। सुरेंद्र गर्ग के निकट संबंधी देवबंद निवासी अजय गोयल ने आज शाम यहां बताया कि गाजियाबाद के एडिशन सिटी मजिस्ट्रेट निखिल चक्रवर्ती, सीओ साहिबाबाद पूनम मिश्रा, एसएचओ इंदिरापुरम बीएस पुंडीर के नेतृत्व में पुलिस की टुकडी ने गार्ड आफ आनर दिया। 

अजय गोयल ने बताया कि 1942 के भारत छोडो आंदोलन में सुरेंद्र गर्ग को तीन महीने की जेल भी हुई थी।