सम्पूर्ण समाधान दिवस में शिकायतकर्ता को काशीराम आवास में कब्जा दिलाया

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर आज सदर तहसील में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में मण्डलायुक्त डा0 लोकेश एम व डीआईजी सुधीर कुमार सिंह एवं जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह ने जनसमस्याओ को सुना एवं सम्बन्धित अधिकारियो को प्राप्त शिकायतो का तत्परता के साथ निस्तारण करने के निर्देश दिये।

सम्पूर्ण समाधान दिवस में शिकायतकर्ता विजय लक्ष्मी द्वारा शिकायती पत्र के माध्यम से अवगत कराया गया कि मा0 काशीराम आवास, शाकुन्तलम कॉलोनी में मकान आवंटित होने उपरान्त मकान की चाबी नही मिली है। उक्त शिकायत पर मण्डलायुक्त एवं जिलाधिकारी द्वारा तत्काल टीम का गठन कर जांच हेतु भेजा गया था। शिकायतकर्ता को साथ परियोजना अधिकारी डूडा, एस0ओ0 कोतवाली, अधिशासी अधिकारी नगरपालिका की संयुक्त टीम के नेतृत्व में काशीराम कॉलोनी में आवंटित मकान सं0-44/515 में कब्जा दिला दिया गया व आवंटित टीम के द्वारा मकान प्राप्ति की सहमति दे दी गई। शिकायत का त्वरित एवं गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराया गया। तहसील संपूर्ण समाधान दिवस में जन सामान्य के द्वारा कुल 59 शिकायतें विभिन्न विभागों से संबंधित दर्ज कराई गई, जिसके सापेक्ष 04 शिकायतों का निराकरण विभागीय अधिकारियों के द्वारा मौके पर ही सुनिश्चित किया गया। 

इस अवसर पर मण्डलायुक्त ने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनता की शिकायतों एवं समस्याओं के निराकरण को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार एवं शासन गंभीर है। उन्होंने सभी अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि तहसील संपूर्ण समाधान दिवस में जिन विभागों से संबंधित जनता की शिकायतें दर्ज हो रही हैं। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित अधिकारीगण गंभीरता के साथ तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करें और मौके पर जाकर संबंधी शिकायतों का निराकरण सुनिश्चित कराएं, ताकि संबंधित पोर्टल पर शिकायतों को ऑनलाइन किया जा सके। जिलाधिकारी ने किसानो द्वारा हिस्सा प्रमाण पत्र में लेखपालो के मुंशी द्वारा रिस्वत की शिकायत पर सभी लेखपालो से नाराजगी व्यक्त की और उन्होने कहा कि अपनी कार्यशैली में सुधार लाये अन्यथा कडी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। इसी प्रकार मृत्यु प्रमाण पत्र ग्राम पंचायत सचिवालय से 13 दिन के अन्दर जारी कर दिया जाये।
इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल, अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र बहादुर सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी महावीर सिंह फौजदार, एसपी सिटी, उप जिलाधिकारी सदर सहित सभी विभाग के अधिकारी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।