कस्तूरबा गांधी विद्यालय में विषाक्त खाना प्रकरण में तीन कर्मचारी बर्खास्त

गौरव सिंघल, सहारनपुर। जनपद के कस्बा गंगोह के गांव मैंगी स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय के तीन कर्मचारियों को बेसिक शिक्षाधिकारी अमरीश कुमार ने बर्खास्त कर दिया है। अमरीश कुमार ने आज बताया कि 2 और 3 जुलाई को खाना खाने के बाद छात्राओं की तबियत  खराब हो गई थी। गंभीर हालत में कई छात्राओं को जिला अस्पताल और पीजीआई चंडीगढ़ भेजा गया था। एक छात्रा एक महीने से भी ज्यादा अस्पताल में रही। इस मामले के अखबारों में छपने के बाद जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने एडीएम प्रशासन डा. अर्चना द्विवेदी की अध्यक्षता में जांच समिति गठित की गई थी। कमेटी ने जिलाधिकारी को दी अपनी रिपोर्ट में विद्यालय की वार्डन मुकेश देवी और नीलमरसोइया आजाद सिंह को जिम्मेदार ठहराया था। 

बीएसए अमरीश कुमार ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर आरोपी तीनों कर्मचारियों के खिलाफ सेवा से बर्खास्तगी की कार्रवाई की गई है। फूड विभाग ने भोजन सामग्री के नमूने जांच के लिए भेजे थे। अभी उनकी रिपोर्ट नहीं मिली है। बीएसए ने कहा कि कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में सभी व्यवस्थाओं को दुरूस्त कराया जा रहा है और वहां के मुख्य अध्यापिका को कड़े निर्देश दिए गए हैं कि बालिकाओं के साथ किसी भी तरह की कोई लापरवाही ना बरती जाए।