जयंत के आहवान पर रालोद ने तहसील मुख्यालय पर किया धरना-प्रदर्शन, राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा
अमजद रजा, जानसठ। राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चैधरी के आहवान पर आज प्रदेश की सभी तहसीलों में भाजपा की तानाशाही व महंगाई के विरोध में धरना-प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर राज्यपाल कपो सम्बोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी को सौंपा गया।
धरना-प्रदर्शन के दौरान राष्ट्रीय लोक दल की राष्ट्रीय सचिव रमा नागर ने कहा कि भाजपा सरकार में कालाबाजारी चरम पर है। थानों में बेगुनाहों को सजा मिलती है और गुनहगारों को छोड़ दिया जाता है। उन्होंने कहा कि अगर हमारी सरकार आई तो सबका साथ, सबका विकास किया जायेगा और किसी के साथ भी कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार यूपी में सरकार किसी की भी रही हो, लेकिन राष्ट्रीय लोकदल की अहमियत को कम नहीं आंका जा सकता है। उन्होंने कहा कि जिले में बीजेपी अपनी मनमानी कर रही है, लेकिन लोकदल ऐसा नहीं होने देगी और 2022 में होने वाले चुनाव में भाजपा को सबक सिखाया जायेगा।
हाशिम रजा ने कहा कि सरकार की तानाशाही के चलते किसान बाॅर्डर पर पड़े हैं, लेकिन सरकार किसानों की बात मानने को तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि आगामी विधान सभा चुनाव में भाजपा को इसका खामियाजा भुगतना पडेगा। इस अवसर पर डाॅ. अमित ठाकरान, सुंदर प्रधान, गौरव राठी, परवेज आलम, बिंदु राठी, पूर्व विधायक मौलाना जमील, रालोद के पूर्व जिलाध्यक्ष रालोद अमित राठी आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।