जिला चिकित्सालय में ओपीडी सेवा शुरू
ि.वा.ब्यूरो, शामली। जनपद के लोगों के लिए राहत भरी खबर है, क्योकि लंबे समय के बाद सोमवार से पूर्वी यमुना नहर स्थित जिला चिकित्सालय में ओपीडी शुरू कर दी गई है। इसके एक सप्ताह बाद प्रसव सुविधा भी शुरू की जाएगी। साथ ही चिकित्सकों की संख्या को भी बढ़ाया जाएगा, जिससे अब जनपद के मरीजों को उपचार के लिए इधर उधर नहीं भटकना पड़ेगा। जिला चिकित्सालय में ओपीडी का शुभारंभ मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ सफल कुमार द्वारा फीता काटकर किया गया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ. संजय अग्रवाल भी मौजूद रहे।
मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सफल कुमार ने बताया-कोरोना के कारण ओपीडी बंद चल रही थी। सोमवार से ओपीडी शुरू की गई है। उन्होंने बताया - जिला अस्पताल की बिल्डिंग में कोविड अस्पताल चल रहा है, जिसके चलते अस्पताल की बर्न यूनिट में सोमवार से ओपीडी शुरू की गई है। इसमें दो चिकित्सक तैनात किए गए हैं, जो इमरजेंसी सेवा भी देखेंगे। स्टाफ नर्स की भी ड्यूटी लगाई गई है। इसके अलावा अस्पताल सभी आधुनिक सुविधाओं से लैस है। उन्होंने बताया-अस्पताल में सभी तरह के टेस्ट जैसे एक्स-रे, ईसीजी, ब्लड टेस्ट, शुगर की जांच समेत अन्य सभी प्रकार की जांच भी उपलब्ध कराई जाएंगी। उन्होंने बताया - अभी अस्पताल में मरीजों के लिए 20 बेड की व्यववस्था की गयी है, जिसमें 14 बेड वार्डो में है जबकि छह बेड इमरजेंसी में है। इस दौरान अस्पताल में आने वाले मरीजों की संपूर्ण देखरेख योग्य चिकित्सकों द्वारा की जाएगी। न्होंने बताया वर्तमान में जिले में कोरोना का एक भी मरीज नहीं है, लेकिन कोरोना की संभावित तीसरी लहर के चलते 200 बेड का कोविड अस्पताल और 40 बेड का पीकू वार्ड तैयार किया गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि अभी कोरोना के प्रति लापरवाह नहीं हो जाना है। कोरोना पर नियंत्रण पाया गया है अभी यह पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है, इसलिए मास्क जरूर लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।