नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज चौधरी द्वारा अफवाह फैलाने पर बार एसोसिएशन ने किया प्रतिकार
कार्तिक कुमार परिच्छा, सरायकेला (झारखंड)। सरायकेला जिला बार एसोसिएशन के महासचिव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करके कहा है कि नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज चौधरी द्वारा कोर्ट परिसर में जलजमाव की समस्या को मीडिया के माध्यम से गलत तरीके से प्रसारित कराया जा रहा है। मनोज चौधरी द्वारा फैलायी जा रही अफवाह को लेकर बार महासचिव के नेतृत्व में वकीलों ने मुख्य जिला एवं सत्र न्यायाधीश से मुलाकात करने के बाद आज तीव्र विरोध भी प्रकट किया है। मनोज चौधरी द्वारा सोशल मीडिया पर जिला सत्र न्यायाधीश से मिलते समय बार एसोसिएशन का नेतृत्व करने की खबर को भी गलत एवं सफेद झूठ करार दिया है। बता दें कि सरायकेला कोर्ट परिसर में जलजमाव की समस्या को लेकर बार एसोसिएशन व मुख्य जिला एवं सत्र न्यायाधीश के आयोजित बैठक में उपायुक्त एवं अन्य पदाधिकारी की उपस्थिति में कोर्ट परिसर में जलजमाव की समस्या के निदान की मांग की गयी थी। इस समस्या के निराकरण हेतु प्रशासनिक पदाधिकारियों ने आश्वासन भी दिया था। इस मामले में मनोज चौधरी द्वारा सोशल मीडिया पर फैलायी जा रही अफवाह व उनके द्वारा की जा रही राजनीति की बार एसोसिएशन ने तीव्र आलोचना की है।
जानकारों की मानें तो हर मामले में राजनीति करना और खुद को सुपरियर व दूसरों को हीन साबित करने की मानसिकता समाज का लगातार नुकसान करती आ रही है। अभी तक ये बीमारी केवल राजनेताओं तक सीमित थी, लेकिन अब हर क्षेत्र में इस बीमारी को प्रार्दुभाव देखने को मिल रहा है। नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज चौधरी ने बार एसोसिएशन द्वारा किये कार्यों का श्रेय प्राप्त करने के लिए फैलायी जा रही अफवाह भी इसी श्रेणी की नकारात्मकता है, जिसका हर कदम पर विरोध किया जाना चाहिए।