गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया तेज
प्रतापगढ़। मेरठ से प्रयागराज के लिए स्वीकृत गंगा एक्सप्रेसवे के लिए तहसील क्षेत्र मे भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया अब तेज हो उठी है। तहसील क्षेत्र के नौढ़िया, अर्रो, करमाईन, बसोय, महासिनपुर, पूरे जोधा समेत एक दर्जन गांवो से निकलने वाले एक्सप्रेसवे के लिए मंगलवार की शाम तक एक सौ चौरासी भूस्वामियों की ओर से तहसीलदार श्रद्धा पाण्डेय ने प्राधिकरण के पक्ष में बैनामा प्राप्त कर लिया है। तहसीलदार श्रद्धा ने बताया कि तहसील को एक्सप्रेसवे प्राधिकरण के लिए भूमि अधिग्रहण के लक्ष्य मे पचास प्रतिशत की सफलता मिल चुकी है। बुधवार को अधिग्रहण सम्बन्धी समीक्षा के तहत तहसील के पांच लेखपाल के आवंटित क्षेत्रो के लिए लक्ष्य पूर्ति हेतु टॉस्क दिये गये है। तहसीलदार ने संबंधित लेखपालों को आगाह किया है कि यदि इस अभियान मे शिथिलता पायी गई तो जिम्मेदार लेखपालो के खिलाफ कडी कार्रवाई होगी। इसके पूर्व अभियान मे शिथिलता को लेकर तीन लेखपालो पर निलंबन की गाज भी गिर चुकी है। इधर एसडीएम राहुल यादव ने भी एक्सप्रेसवे के लिए अधिग्रहण की कार्रवाई की समीक्षा करते हुए जिम्मेदारो को इसमे तेजी लाये जाने के लिए कडे निर्देश दिये है। बैठक मे नायब तहसीलदार आकांक्षा मिश्रा, रजिस्ट्रार कानूनगों रामलोचन त्रिपाठी, लेखपाल संघ के अध्यक्ष रामचंद्र त्रिपाठी भी मौजूद रहे।