जनपद में 8 कचरा माफियाओं पर मुकदमा दर्ज, पेपर मिल सीज
शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के अफसर जनपद में प्रदूषण फैलाने वाली इकाईयों पर सख्ती करना आरम्भ कर दिया है। विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए आरटीआई एक्टिविस्ट की शिकायत पर प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी अंकित सिंह के नेतृत्व में विभागीय अफसरों की टीम ने 8 बड़े कचरा माफियाओं पर मुकदमा दर्ज कराया है, इसके साथ ही एक पेपर मिल को भी सीज कर दिया है। आरटीआई एक्टिविस्ट सुमित मलिक ने नई मंडी थाना क्षेत्र के भोपा रोड व जानसठ रोड पर अवैध रूप से चल रहे कचरा, पन्नी व प्लास्टिक का अवैध कारोबार करने वाले माफियाओं द्वारा प्रदूषण फैलाने की शिकायत की थी, जिस पर प्रदूषण विभाग ने संज्ञान लेते हुए साजिद पुत्र हसन अली, नोशाद पुत्र नवाब अली, मुस्लिम पुत्र रुड़ा, वाजिद पुत्र मोहर्रम, नसीम पुत्र मांगी हसन, नियाज पुत्र अब्बास, गुलनवाज पुत्र अब्बास व इमरान उर्फ मानू पुत्र अहसान आदि आठ कचरा माफियाओं पर कार्रवाई की है। तीन कचरा माफियाओं के गोदामों व क्षेत्र में अवैध रूप से चल रहे उनके प्लांट को सीज कर दिया है। इस कार्यवाही से पेपर मिल एसोसिएशन व कचरा माफियाओं में हडकम्प मचा हुआ है।
बता दें कि पेपर मिलो में आग जलाने के लिए पंजाब से हानिकारक कचरा यहां भेजा जाता है, जिसके पेपर मिलों में जलाने से वातावरण में प्रदूषण फैलता है ओर कई बड़ी बीमारियां भी वातावरण में फैलती है। प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी अंकित सिंह का कहना है कि इस तरह की कार्रवाई आगे भी चलती रहेगी।