कुर्मी महासभा लगातार बढ़ रहे अमानवीय कृत्यों के विरोध में ज्ञापन दिया


शि.वा.ब्यूरो, गोंडा। भारतीय कुर्मी महासभा उत्तर प्रदेश ने उत्तर प्रदेश में लगातार बढ़ रहे अमानवीय कृत्यों के संबंध में राज्य सरकार की उदासीनता के कारण प्रदेश के विभिन्न जिलो हाथरस, बलरामपुर. जीनपुर, आगरा सहित कई जिलों में हमारी बहन बेटियां लगातार सामूहिक बलात्कार एवं जघन्य हत्याओं के विरोध में ज्ञापन दिया।


ज्ञापन मैं कहा गया है कि प्रदेश के विभिन्न जिलो हाथरस, बलरामपुर. जीनपुर, आगरा सहित कई जिलों में हमारी बहन बेटियां लगातार सामूहिक बलात्कार एवं जघन्य हत्याओं का शिकार हो रही हैं। पूरे प्रदेश में अराजकता का वातावरण बना हुआ है। लोगों में भय व्याप्त है। एक ओर जहा पीडितों को न्याय दिलाने के लिए सामाजिक संगठन सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं दूसरा आर राज्य सरकार पूंजीपतियों, बलात्कारी बदमाशों, को संरक्षण प्रदान कर अपराध का बढ़ावा दे रही है, जिससे प्रदेश की जनता में दहशत का माहौल व्याप्त है।


ज्ञापन मैं कहा गया है कि भारतीय कुर्मी महासभा उत्तर प्रदेश राज्य की राज्यपाल मांग करती है कि उत्तर प्रदेश सरकार हाथरस, बलरामपुर, जौनपुर, आगरा सहित अन्य जिलों के बलात्कारी, हत्यारे अपराधियों के खिलाफ तत्काल कड़ी से कड़ी कार्यवाही कर उन्हें फांसी की सजा दिलाए।  पीडित परिवारों को प्रदेश सरकार द्वारा एक करोड़ की आर्थिक सहायता एवं नौकरी प्रदान की जाए। पीडित परिवारों को तत्काल सुरक्षा मुहैया कराई जाए।  स्कूल, कालेज एवं विश्वविद्यालयों में अध्ययनरत छात्राओं की कड़ी सुरक्षा का प्रबंध किया जाए। सम्बन्धित थानों एवं जिलों के पुलिस अधिकारियों द्वारा तत्काल कार्यवाही न करने पर कडा दंड सुनिश्चित किया जाए। ज्ञापन में कहा गया है कि यदि राज्य सरकार द्वारा उपरोक्त मांगो को तत्काल पूरा नहीं किया गया तो भारतीय कुर्मी महासभा सड़क पर उतर कर सामाजिक न्याय की लड़ाई के लिए प्रदेश व्यापी आंदोलन करेगी।