विद्यालय संचालक ने एक शिक्षिका का किया शारीरिक शोषण, दिव्यांग साले से करा दी शादी

शि.वा.ब्यूरो, जौनपुर। जिले के एक विद्यालय संचालक ने एक महिला का शारीरिक शोषण करने के बाद उसकी शादी अपने दिव्यांग साले से करा दी। इतना ही नहीं, गर्भ में कन्या होने पर उसका गर्भपात भी करा दिया। पीड़ित महिला के कई दिनों तक थाने का चक्कर काटने के बाद एक सामाजिक कार्यकर्ता के हस्तक्षेप पर बदलापुर पुलिस ने उसके पति और ननदोई के खिलाफ सोमवार को धारा 376 , 506 , 313 , 419 और 420 के तहत  केस दर्ज किया। 

पीड़िता का आरोप है कि वह नौपेड़वा बाजार निवासी एक व्यक्ति के विद्यालय में पढ़ाती थी। विद्यालय संचालक ने इस दौरान उसका कई बार शारीरिक शोषण किया। बाद में उसकी शादी अपने दिव्यांग साले से करा दी। शादी के बाद वह गर्भवती हुई तो ननदोई के दबाव में सास ने लिंग परीक्षण कराया। गर्भ में कन्या होने पर उसका गर्भपात करा दिया। न्याय की खातिर वह थाने गई तो सुनवाई नहीं हुई। तब उसने अपनी पीड़ा सामाजिक कार्यकर्ता रेनू सिंह को बताई। रेनू सिंह कई महिलाओं के साथ उसे लेकर बदलापुर थाने पहुंचीं। महिलाओं ने चेतावनी दी कि पीड़िता के साथ न्याय नहीं हुआ तो वह थाने से नहीं जाएंगी। तब पुलिस ने महिला की तहरीर पर पति और ननदोई के खिलाफ यौन शोषण, गर्भपात कराने समेत कई अन्य धाराओं में केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।