जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मुजफफरनगर की ओर से गौतम बुद्धनगर में स्थित बाल सम्प्रेक्षण गृह नोएडा में वर्चुअल विधिक साक्षरता शिविर आयोजित


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण से प्राप्त कलेन्डर के अनुसार जनपद न्यायाधीश व , जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष राजीव शर्मा केे निर्देशन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मुजफफरनगर की ओर से गौतम बुद्धनगर में स्थित बाल सम्प्रेक्षण गृह नोएडा में वर्चुअल विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव सलोनी रस्तोगी ने बाल सम्प्रेक्षण गृह में रह रहे किशोर अपचारियों (जुनाईल) को शिक्षा प्राप्ति पर विशेष जोर देते हुए कहा कि केवल शिक्षा ही वह शक्ति है, जिससे बालको की उर्जा व योग्यता को सही दिशा दी जा सकती है। उन्होंने इस संदर्भ में किशोर अपचारियों को पुस्ताकालय में उपलब्ध पुस्तकों का अध्ययन करने को प्रेरित किया और सम्प्रेक्षण गृह के अधीक्षक को उनका मार्ग दर्शन करने को कहा।


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव सलोनी रस्तोगी ने किशोर अपचारियों से स्वंय को कानून के बारे में जागरूक करके सशक्त बनने पर जोर दिया और शिक्षा जागरूकता का सब से महत्वपूर्ण माध्यम है, के विषय मे बताया। सचिव ने सम्प्रेक्षण गृह से बाहर आने पर समाज की मुख्य धारा के साथ जुडने के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाओ के बारे में बताया बाल सम्प्रेक्षण गृह में रह रहे बाल अपचारियों को उनके मोलिक अधिकारों जैसे निः शुल्क विधिक सहायता, भोजन, व आश्रय का अधिकार, शोषण, दुव्र्यवहार, व उपेक्षा से संरक्षण का अधिकार, शिक्षा का अधिकार, किशोर न्याय अधिनियम के अध्याय -9 में वर्णित प्राविधानों विशेषकर बच्चों के प्रति क्रूरता से संरक्षण, भीख मागने के लिए विवश करना अपराध की श्रेणी मे आता है, के बारे मे जानकारी दी गयी। सचिव ने कहा कि कानून बहुत सारे है, उनके प्रति जागरूक होना सब से महत्वपूर्ण है। उन्होंने बच्चों को संविधान में वर्णित कर्तव्यों की शपथ दिलायी। उन्होंने कहा कि किशोर अपचारियों को जिम्मेदार नागरीक बनने के लिए हमेशा प्रयत्न करना चाहिए। सलोनी रस्तोगी ने कहा कि करोना संक्रमण होने पर बुखार, खासी, जुकाम आदि लक्ष्ण दिखाई पडते है। इस वायरस से बचाव ही एक मात्र उपाय है। उन्होंने कहा कि अपने आस पास साफ सफाई रखें और अधीक्षक सम्प्रेक्षण गृह को भी इस सम्बन्ध में साफ सफाई रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सभी अपचारी अपने अपने मुॅह पर हमेशा माक्स लगा कर रखें और आपस में कम से कम 06 फिट की दूरी बना कर रखें। किसी भी प्रकार की दिक्कत होने पर तत्काल जानकारी दे। इस अवसर पर अपर सिविल जज जू0डि0 गगन दीप भी उपस्थित रहें।