ग्रेटर नोएडा वेस्ट के नामचीन स्कूल ने फीस जमा नहीं होने पर छात्रों के खिलाफ उठाया बड़ा कदम, विरोध में उतरे अभिभावक

शि.वा.ब्यूरो, ग्रेटर नोएडा। Saint Johns School पर शुक्रवार को अभिभावकों ने प्रदर्शन किया है। अभिभावकों ने फीस की डिमांड और परीक्षा के दौरान Online Classes बंद करने के विरोध में स्कूल के गेट पर प्रदर्शन किया है। अभिभावक अपनी समस्याओं को लेकर स्कूल पहुंचे थे, लेकिन प्रबंधन से मीटिंग न होने पर गुस्से में आ गए। अभिभावकों का आरोप है कि पिछले दिनों स्कूल की तरफ से अप्रैल और मई महीने की फीस के लिए डिमांड पेनल्टी के साथ की जा रही है। फीस जमा नहीं करने पर 15 सितंबर से ऑनलाइन क्लास बंद करने की बात कही जा रही है। ऐसे में 18 सितम्बर से शुरू हो रहे एग्जाम से बच्चे वंचित हो जाएंगे।   

शुक्रवार को ग्रेटर नोएडा वेस्ट में स्थित सेंट जोंस स्कूल पर प्रदर्शन करते हुए अभिभावकों ने बताया कि कोरोना संक्रमण के दौरान हुए लॉकडाउन की वजह से सभी लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। ज्यादातर अभिभावकों की नौकरी छूट गई हैं। कई को सैलरी कटकर मिल रही है। ऐसे में अभिभावकों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस कठिन समय का फायदा उठाते हुए स्कूल प्रबंधन अपनी मनमानी करने में पर जुटे हुए हैं। 

अभिभावकों का आरोप है कि स्कूल प्रबंधन की तरफ से अतिरिक्त चार्ज के साथ अप्रैल और मई की फीस की डिमांड की जा रही है। साथ ही फीस जाम नहीं करने पर 15 सितंबर से बच्चों की क्लास बंद करने के लिए पत्र भेजा गया है। अभिभावकों का कहना है कि बच्चों के 18 सितंबर से परीक्षाएं शुरू हो रही हैं। यदि परीक्षाएं निरस्त की गईं तो बच्चों के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। अभिभावक बच्चों के भविष्य को देखते हुए फीस जमा करने की बात करने के लिए मंजूर है। लेकिन लैब, बिजली व अतिरिक्त चार्ज हटाने के बाद। 

अभिभावकों का कहना है कि इस मामले पर स्कूल प्रबंधन से कई बार बातचीत करने के लिए कोशिश की गई है। लेकिन कोई हल नहीं निकला है। स्कूल के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों में राहुल गर्ग, विजेंदर पावर, श्वेताज, अनीता, मनीष साहू और राजीव तिवारी आदि अभिभावक मौजूद रहे।