छात्रों के खातो मे PFMS प्रणाली द्वारा प्रेषित


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला समाज कल्याण अधिकारी अर्चना ने बताया कि शैक्षिक सत्र 2019-20 में जिला समाज कल्याण कार्यालय द्वारा संचालित अनुसूचित जाति-जनजाति एवं सामान्य वर्ग छात्रवृत्ति कक्षा 9-10, 11-12 एवं उच्च शिक्षण संस्थानों में अध्ययनरत छात्र/छात्राओं की छात्रवृत्ति, शुल्क प्रतिपूर्ति की धनराशि समाज कल्याण निदेशालय द्वारा छात्रवृत्ति की नियमावली के प्राविधानों एवं बजट की वरियता के आधार पर छात्रों के खातो मे PFMS प्रणाली द्वारा प्रेषित की गयी है।
जिला समाज कल्याण अधिकारी अर्चना ने बताया कि पूर्व दशम एवं दशमोत्तर छात्रवृत्ति नियमावली के प्राविघानो के अनुसार सर्वप्रथम राजकीय उसके उपरांत सहायता प्राप्त एवं तत्पश्चात निजी क्षेत्र की संस्थानों में बजट की उपलब्घता के अनुसार छात्रवृत्ति-शुल्क प्रतिपूति की धनराशि हस्तान्तरित की गयी है। इसमें रिनीवल एवं गत वर्ष में उच्च अंक प्राप्त करने वाले छात्रों को प्राथमिकता दी गयी है। वर्ष 2019-20 में सामान्य जाति के 172 एवं अनुसूचित जाति के 2675 छात्रों को ही छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति की धनराशि हस्तान्तरित की गयी एवं अन्य अनुसूचित जाति एवं सामान्य जाति के छात्रों को बजट उपलब्ध न होने के कारण केवल शुल्क प्रतिपूर्ति की गयी है। सामान्य जाति के जो छात्र चल वित्तीय वर्ष मे बजट उपलब्ध न होने के कारण छात्रवृत्ति-शुल्क प्रतिपूर्ति पाने से रह जाते है, सामान्य जाति छात्रवृत्ति नियमावली के अनुसार उनकी डिमांड अग्रेतर वर्ष मे अग्रसारित नही होती है एवं ऐसे छात्रों को छात्रवृत्ति नही मिल पाती है। गत वर्षो से अनुसूचित जाति/जनजाति के छात्रों का शून्य बेलेन्स पर प्रवेश समाप्त कर दिया गया है। छात्र अपना स्टेटस छात्रवृत्ति वेबसाईट scholarship.up.gov.in पर चैक कर सकते है।