भाकियू का पानीपत खटीमा मार्ग पर कब्जा, शर्त मानने पर खोला जाम


शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष चौधरी धीरज लाटियान के सिपाहियों ने पानीपत खटीमा मार्ग पर चक्का जाम कर दिया। इससे पूर्व कल 10 सितंबर को जिला अध्यक्ष धीरज लाटियान ने भारतीय किसान यूनियन के सच्चे सिपाही होने का  सबूत पुख्ता  किया पूरा दिन  अपने पदाधिकारी कार्यकर्ताओं को साथ लेकर प्रशासन के सामने अगंद की तरह अडे रहे। प्रशासन द्वारा की जा रही गुंडागर्दी के सामने चट्टान की तरह डटे रहे। पूरे दिन हाईवे पर भारतीय किसान यूनियन के सिपाहियों का कबजा रहा, डरे हुए प्रशासन ने अत्याधिक पुलिस फोर्स एवं पीएसी दर्जनों गाड़ी लगाकर कानून व्यवस्था स्थापित करने का प्रयास किया, परंतु आज हाईवे पर भारतीय किसान यूनियन का शासन चला, चौधरी धीरज लाठियां ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर प्रशासन ने किसानों के साथ किसी प्रकार का अन्याय करने का प्रयास किया तो भारतीय किसान यूनियन का शासन सड़कों के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों के दफ्तरों का भी घेराव करेगी।
चौधरी नरेश टिकैत ने प्रशासन को समझाते हुए कहा की परिस्थिति चाहे कोई भी हो किसान यूनियन केवल किसानों का संगठन हैं, यहां किसी भी सत्ताधारी दल की किसान विरोधी नीतियों का समर्थन नहीं होता है। प्रशासन द्वारा फसलों के मुआवजे की शर्त मानने व भविष्य में अन्य शर्तो पर काम करने एवं प्रशासन को हद में रह कर काम करने के लिए चेतावनी देते हुए जाम खोला गया।