डॉ मसानिया के नवाचार अर्चना शर्मा की आवाज में


योगेश कुमार उपाध्याय, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।


शिक्षा के साथ साहित्य के क्षेत्र में भी डाॅ मसानिया द्वारा सृजित गायन शोध नवाचार पूरे देश में प्रसारित हो रहा है । इन नवाचारों को छत्तीसगढ़ की गायिका शिक्षक अर्चना शर्मा की आवाज में भी सुना जा सकता है। प्रथम कड़ी के रूप में 'प्रेमचंद पर दोहे'  जिसमें प्रेमचंद का जीवन, कहानी उपन्यासों के पात्रों का चरित्र चित्रण दूसरा 'बेटी बुधिया मर गई' जिसे बुधिया चालीसा के रूप में भी जाना जाता है ।यह प्रेमचंद की प्रसिद्ध कहानी कफन पर आधारित गायन है । इसका उद्देश्य बाल विवाह तथा नशाखोरी जैसी कुप्रथाओं का समाज से उन्मूलन करना है ।
 इसी प्रकार डॉ मसानिया के चालीसाओं पर कोलकाता बंगाल के शिक्षक साहित्यकार आलोक शुक्ला समय-समय पर समीक्षायें लिख रहे हैं। महाराष्ट्र के हिंदी शिक्षक गुलाब भोयर इन पर शोध कर रहे हैं। दिल्ली नवोदय शिक्षा क्रांति मंच से सोशल मीडिया प्रसारण हो रहा है । शिक्षा महाविद्यालय उज्जैन की छात्राध्यापक संगीता भिलाला ने बी एड के लिये  लघु शोध प्रस्तुत किया है । इतना ही नहीं उत्तरप्रदेश के खतौली से प्रकाशित शिक्षा वाहिनी व portal shikshavahini.page, शुजालपुर से प्रदेश प्रवाह, देवास से प्रसारित दै राष्ट्रीय नवाचार द्वारा नियमित रूप से प्रकाशित किए जा रहे हैं और डाॅ मसानिया के नवाचारों को शैक्षणिक हित के लिये देशभर में विभिन्न संस्थाओं द्वारा जन-जन तक पहुंचाया जा रहा है।
            
          सेवानिवृत्त व्याख्याता (डाइट) शाजापुर, मध्यप्रदेश