शुल्क जमा न हो पाने के कारण किसी को भी पठन-पाठन से वंचित न किया जाये


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जिला विद्यालय निरीक्षक गजेन्द्र कुमार ने बताया कि ऑल स्कूल पैरेन्टस एसोसिएशन के अध्यक्ष एवं सचिव सहित कुछ अभिभावकों द्वारा ज्ञापन दिनांक 03.07.2020 जिलाधिकारी को प्रस्तुत किया गया, जिसमें कोरोना वायरस (कोविड-19) के कारण एक साथ शुल्क जमा करने में असमर्थ है तथा लाॅकडाउन अवधि की फीस माफ करने का अनुरोध किया गया तथा शुल्क जमा न होने के कारण किसी भी छात्र/छात्रा का नाम विद्यालय से पृथक न किये जाने का अनुरोध किया गया।
जिलाधिकारी की उपस्थिति में 3.07.2020 को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिये गये कि -
1- सभी संस्थाओं में दिनांक 06.07.2020 से 10.07.2020 की अवधि में अभिभावक, विद्यालय प्रबन्धक, विद्यालय प्रधानाचार्य एवं प्रबन्ध समिति में नामित एक माध्यमिक शिक्षा विभाग के शासकीय अधिकारी के साथ बैठक का आयोजन किया जाये।
2- बैठक में उठायी गयी मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार कर कार्यवाही की जाये।
3- कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत लाॅकडाउन के कारण अनेक छात्रों के अभिभावकों के कारोबार एवं रोजगार भी प्रभावित हुए है, ऐसी स्थिति में शासनादेश में दिये गये सभी बिन्दुओं के अनुरूप कार्यवाही की जानी है-
1- अभिभावकों से अग्रिम रूप में इकट्ठा शुल्क जमा कराने पर दबाव न बनाया जाये। अभिभावकों के अनुसार शुल्क की किस्त बनाते हुए शुल्क जमा कराया जाये।
2- शुल्क जमा न हो पाने के कारण किसी भी छात्र/छात्रा को ऑनलाइन पठन-पाठन से वंचित न किया जाये तथा विद्यालय से नाम पृथक न किया जाये।
3- कोरोना वायरस (कोविड-19) की स्थिति को देखते हुए अधिकतम 50 अभिभावक, जिससे समस्त कक्षाओं व वर्गों का प्रतिनिधित्व हो सके, को बुलाया जाये। सोशल डिस्टेन्सिंग, थर्मल स्कैनिंग, मास्क तथा सेनेटाइजर की व्यवस्था की जाये।