समाज के आर्थिक रूप से कमजोर मेधावी छात्रों के चयन का आह्वान किया


शि.वा.ब्यूरो, प्रयागराज। विश्व कुर्मी महापरिषद के संस्थापक सत्य प्रकाश पटेल ने बताया कि विश्व कुर्मी महापरिषद ने यह निर्णय लिया गया है कि समाज के आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के मेधावी छात्रों का चयन किया जाए, जो संसाधन के अभाव मे भी दसवीं व 12वी आदि की परीक्षा मे 70-80% तक या अधिक अंकों के साथ उतीर्ण हुए हैं, लेकिन वे अब शायद आर्थिक तंगी या सही समझ के अभाव मे आगे का मार्ग अवरूद्ध पा रहे है।

श्री पटेल ने बताया कि ऐसे लोगो की पहचान कर उनके लिए जरूरी साधन या काउंसिलिंग प्रदान करने पर सहमती बनी है। शुरूआत पटना  मे व्यवस्था कराने की हो रही है, परंतु अभी अंतिम निर्णय नही बना है। हां लेकिन सहायता प्रदान करने या करवाने की सोच पर मुहर लग गई है। उन्होंने आह्वान किया है कि अगर ऐसा कोई बच्चा किसी जानकारी मे हो तो उनकी सूचना विश्व कुर्मी महापरिषद को प्रदान की जाए।

सत्य प्रकाश पटेल ने कहा कि सूचना देने का काम कर भी आप समाज के ऐसे बनने वाले संस्था के आंख व कान बन सकते हैं और एक सम्मानिय समाज के व्यक्तित्व के रूप में अपना स्थान बना सकते हैं। यह छोटी सी जानकारी भी बरगद के वृक्ष के बीज की तरह है, जो देखने मे तो अत्यंत छोटा होता है, लेकिन ज़मीं मिल जाने पर विशालकाय वृक्ष बनकर ही रहता है तथा अनेकों पक्षियों और जीवों के आश्रय का काम करता है। उसी तरह सिर्फ जानकारी देना भी किसी बच्चे का भविष्य और समाज मे एक बहुत विशालकाय व्यक्तित्व को जन्म दे सकते हैं, जो आगे चलकर सिर्फ अपना ही नही बल्कि समाज के लिए भी एक आश्रय का काम कर सकता है। अतः ऐसे बच्चो की पहचान करवाने में मदद करें।