जनपद में आठ अगस्त से बच्चों को लगाया जाएगा न्यूमोकोकल काँजुगेट का टीका, डब्ल्यूएचओ की कार्यशाला आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। न्यूमोकोकल काँजुगेट वैक्सीन (पीसीबी) को नियमित टीकाकरण अभियान में शामिल किये जाने को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की ओर से सोमवार को रुड़की रोड स्थित एक होटल में कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (सीएचसी- पीएचसी) के प्रभारियों और अन्य कर्मचारियों ने प्रतिभाग किया। कार्यशाला में निमोनियारोधी वैक्सीन न्यूमोकोकल काँजुगेट के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण चोपड़ा ने बताया मुजफ्फरनगर समेत प्रदेश के 56 जिलों में निमोनिया की वैक्सीन न्यूमोकोकल काँजुगेट सरकारी नियमित टीकाकरण अभियान में शामिल होने जा रही है। इसके लिए शासन की ओर से अगस्त की आठ तारीख तय की गयी है।

डब्ल्यूएचओ के डॉ. अजीत ने बताया नियमित टीकाकरण में इस वैक्सीन को प्रदेश के 19 जिलों में पहले ही शामिल किया जा चुका है।  अब इसे अगले माह आठ अगस्त से प्रदेश के सभी जिलों में नियमित टीकाकरण में शामिल कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया बच्चों को वैक्सीन की तीन डोज दी जाएंगी। पहली डोज डेढ़ महीने पर, दूसरी साढ़े तीन महीने पर और तीसरी नौ महीने के बाद दी जाएगी।

कार्यशाला में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण चोपड़ा, प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. राजीव निगम, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. शरण सिंह, डॉ. अजीत,पुष्पा रानी, गीतांजली वर्मा, और समस्त सीएचसी-पीएचसी प्रभारी मौजूद रहे। 

इस संबध में महानिदेशक परिवार कल्याण डॉ. मिथिलेश चतुर्वेदी ने 56 जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को नियमित टीकाकरण के चौथे अभियान में न्यूमोकोकल काँजुगेट को शामिल किये जाने के संबंध में पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि इसे मार्च माह में लांच किया जाना था। लेकिन कोविड-19 संक्रमण और लॉकडाउन के कारण स्थगित कर दिया गया था। अब इसे आठ अगस्त से नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल किया जाएगा। बाजार में इसकी कीमत काफी अधिक है, इस लिए यह आम आदमी की पहुंच से बाहर थी। सरकार इसे नि:शुल्क उपलब्ध कराएगी।