महालाॅगिंग डे पर बिजनौर डाक मण्ड़ल पूरे प्रदेश में टाॅप पर, 16 हजार से अधिक लोगों को किया सवा करोड़ से अधिक का भुगतान


  1. शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। आला अफसरों के निर्देश पर आज पूरे राज्य में आयोजित किये गये महालाॅगिंग डे पर आज बिजनौर मंडल ने पिछले सभी रिकाॅर्ड ध्वस्त करते हुए अप्रत्याशित रूप से नम्बर वन के ताज पर कब्जा कर लिया है। 
    बता दें कि देशव्यापी लाॅक डाउन में लोगों की आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए आगे आये डाक विभाग ने आधार से लिंक बैंक खातों से केवल अंगूठा लगाकर निकासी करके लोगों को उनके घर पर दस हजार तक की धनराशि आधार इनेबिल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से उपलब्ध कराने का अभियान चला रखा है। इसके तहत डाकघर के शाखा डाकपाल व पोस्टमैन लोगों की डिमाण्ड़ के अनुसार उनके बैंक खाते से दस हजार की धनराशि केवल अंगूठा लगवाकर घर पर ही उपलब्ध कर रहा है। इस अभियान में तेजी लाने के लिए आज 8 जून को महालाॅगिंग डे का लक्ष्य निर्धारित किया था। 
    विभागीय अफसरों की मानें तो महालाॅगिंग डे के लिए बिजनौर मंडल का लक्ष्य आधार इनेबिल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से 10 हजार ट्रांजेक्शन निर्धारित किया था। इसके विपरित बिजनौर मंडल ने समाचार लिखे जाने तक 16 हजार से अधिक ट्रांजेक्शन के माध्यम से सवा करोड़ से भी अधिक धनराशि जरूरतमंदों को उपलब्ध करायी है। विभागीय अधीक्षक राधेश्याम शर्मा की मानें तो आधार इनेबिल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से लोगों को धनराशि उपलब्ध कराने का सिलसिला अभी जारी है।
    सूत्रों के अनुसार सायं 6 बजे तक बिजनौर मंडल प्रदेश में तीसरे पायदान पर था, लेकिन फिर इस मंडल के अधिकारियों और कर्मचारियों की कार्यशैली ने इस कदर जोर पकड़ा कि 9 बजते-बजते बिजनौर मण्ड़ल यूपी के सभी जनपदों व मण्डलों को पछाड़ते हुए सबसे आगे निकल गया। डाक विभाग बिजनौर मण्ड़ल के अधीक्षक राधेश्याम शर्मा बताते हैं कि बिजनौर मण्ड़ल का पूरे प्रदेश में पहले स्थान पर आना इस मण्ड़ल में कार्यरत सभी विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए गर्व की बात है।
    डाक अधीक्षक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि आधार इनेबिल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से हर वह व्यक्ति 10000 तक की धनराशि घर बैठे बिना किसी औपचारिकता के केवल अंगूठा लगाकर प्राप्त कर सकता है, जिसका बैंक खाता आधार से लिंक होगा। उन्होंने बताया कि विगत दिनों सरकार द्वारा वृ(ावस्था पेंशन, किसान सहायता राशि, जनधन योजना के खातों में भेजी गयी है। इस धनराशि को बिना बैंक जाये, घर बैठे ही केवल अंगूठा लगाकर आधार इनेबिल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है। इस सुविधा को प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को नजदीकी शाखा डाकपाल अथवा उपडाकघर को सूचित करना होगा। इसके बाद पोस्टमैन के माध्यम से घर बैठे किसी भी बैंक की न्यूनतम 100 अधिकतम 10000 तक की धनराशि का भुगतान डाकघर से निःशुल्क प्राप्त कर सकता है। श्री शर्मा ने बताया कि इसके लिए खाताधारक का डाकघर में खाता होना भी जरूरी नहीं है और ना ही अपने बैंक का खाता नंबर याद रखने की आवश्यकता है, केवल आधार संख्या एवं अपने बैंक का नाम याद होना चाहिए। उन्होंने बताया कि कोई भी व्यक्ति 100 रूपये से इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का खाता खुलवा सकता है। इस खाते के माध्यम से खाताधारक घर बैठे अपने सुकन्या, आरडी, पीएफ, खाते में धनराशि जमा कर सकते है। इसके साथ ही घर से ही टीवी, मोबाइल व बीमा प्रीमियम का भुगतान  आदि का रिचार्ज करा सकते है। टेलीफोन, गैस, पानी, बिजली के बिल का भुगतान आदि भी कर सकते है।