डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट ने फादरस डे पर अपने पापा दिलीप भाटिया को किया सम्मानित

शि.वा.ब्यूरो, रावतभाटा। परमाणु नगरी रावतभाटा की चित्रकार डॉक्टर मिली भाटिया आर्टिस्ट ने अपने पापा दिलीप भाटिया को जीवन में उनके निस्वार्थ योगदान के लिए अपनी बनाई पेंटिंग दे कर सम्मानित किया। डॉक्टर मिली ने  पेंटिंग के माध्यम से कहा कि आप पिता हैं, पर एक माँ से कम नहीं। डॉ. मिली ने बताया 17 वर्ष पहले जब वो 17 वर्ष की थीं, तब उन्होंने मम्मी को खो दिया था। तबसे पापा ही पिता के साथ साथ माँ की भी भूमिका निभा रहे हें।


डॉक्टर मिली ने बताया की बचपन से ही पापा भाई, टीचर, बेस्ट फ़्रेंड का रोल निभा रहे हें। मिली ने बताया कि पापा का जीवन जल में कमल की तरह है। डॉक्टर मिली ने बताया कि उनके पापा देश भर के बच्चों को समय प्रबंधन, कैरियर चुनाव तथा परमाणु ऊर्जा के शांति पूर्ण उपयोग पर जानकारी अवम मार्गदर्शन निस्वार्थ रूप से रिटायरमेंट के 12 वर्ष बाद भी देते आ रहे हैं। मिली ने बताया की उनके पापा दिलीप भाटिया राष्ट्रपति डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम से आत्माराम पुरस्कार से भी सम्मानित हैं। मिली ने बताया की उनके पापा 59 बार ब्लड डोनेट कर चुके हैं। मिली ने कहा की मेरे पापा वर्ल्ड के बेस्ट पापा हैं और उनका जीवन मेरे साथ साथ सब बच्चों के लिए मिसाल है।