CM अखिलेश यादव ने शांति एवं सद्भाव के लिये आयोजित साइकिल अभियान योग चक्र साइक्लोथान को झण्डी दिखाकर किया रवाना, कहा- साइक्लिंग योग और पर्यावरण तीनों ही महत्वपूर्ण (शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र के वर्ष 12, अंक संख्या-31, 28 फरवरी 2016 में प्रकाशित लेख का पुनः प्रकाशन)


शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने सरकारी आवास से शांति एवं सद्भाव के लिये आयोजित साइकिल अभियान योग चक्र साइक्लोथान को झण्डी दिखाकर रवाना किया। यह यात्रा प्रख्यात् आर्टिस्टिक योग टीचर भरत ठाकुर एवं उनके साथियों द्वारा की जा रही है। साइकिल अभियान योग चक्र साइक्लोथान को रवाना करते हुए कहा कि वर्तमान समय में साइक्लिंग योग और पर्यावरण तीनों ही महत्वपूर्ण हैं, इनकी जरूरत और महत्व के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए इन्हें आम जन के बीच ले जाना आवश्यक है। शान्ति और सद्भाव को बढ़ावा देने के लिये लगातार प्रयास किये जाने भी जरूरी हैं। यात्रा के सदस्यों द्वारा इन्हें जनता के बीच ले जाने को भी मुख्यमंत्री ने मुक्त कंठ से सराहा। 
इस अवसर पर भरत ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में साइक्लिंग के लिये अच्छी व्यवस्था है। यहां साइक्लिंग आसान है। साइक्लिंग और योग दोनों ही जीवन शैली के बदलाव से होने वाले रोगों के निवारण में बहुत ही उपयोगी हैं। प्रतिदिन साइक्लिंग ये हृदय रोग व आर्थराइटिस आदि पर प्रभावी नियंत्रण रखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि साइक्लिंग यातायात का भी अच्छा साधन है। ग्लोबल वार्मिंग  पर नियंत्रण सहित पर्यावरण की सुरक्षा एवं संरक्षण के लिये साइक्लिंग अच्छा समाधान हो सकती है। इस अवसर पर राजनैतिक पैंशन मंत्री राजेन्द्र चौधरी, सांसद डिम्पल यादव व सूचना विभाग के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल समेत अनेक अधिकारी व गणमान्य लोग मौजूद थे।
ज्ञात हो कि काठमाण्डू से लेकर कन्याकुमारी तक का लगभग पांच हजार किलोमीटर का योग चक्र साइक्लोथान साइकिल यात्रा के सदस्यों में भरत ठाकुर के साथ गौरव कुमार, राजशेखर, रवि शेषाद्रि आदि हैं।