हिमवाणी ने अध्यापिकाओं, महिला मंडल स्वयम् सहायता समूह के सहयोग से शुरु किया मास्क बनाने का काम

उमा ठाकुर, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

 

हिमवाणी संस्था ने ग्राम पंचायत कोट शिलारू तहसील ठियोग जिला शिमला की सिलाई अध्यापिकाओं, महिला मंडल शिगोटी शिलारू तथा स्वयम् सहायता समूह की सभी महिलाओं के साथ मिलकर लॉक डॉउन का पालन करते हुए अपने घरों में ही फेस मास्क बनाने का काम शुरु किया है, जो महिला सशक्तिकरण की मिसाल है। संस्था की उपसचिव ज्ञानी शर्मा की देख रेख में महिला मंडल की अन्य महिला के साथ मिलकर फेस मास्क को क्षेत्र के दूर दराज के गांव में  बांटा गया और यह काम आगे भी जारी रहेगा, जब तक इस महामारी को हम अपने बुलन्द हौसलों से  हरा न दे। कोरोना महामारी से बचने के लिए फेस कवर की भूमिका महत्वपूर्ण होती है साथ ही सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों  का पालन, व्यक्तिगत स्वछता  और समाजिक  दूरी के प्रति हमारी सतर्कता एवं सावधानियां ही कोरोना वायरस से  हमें बचा सकती हैं  यही संदेश महिलाओं द्वारा  घर घर तक पहुंचाया जा रहा है ।


बता दें कि हिमवाणी संस्था लोक संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के साथ साथ  कोविड -19 के वैश्विक संकट के दौर में इस महामारी के प्रति समाज को जागरूक करने का काम भी बखूबी कर रही है। संस्था के संस्थापक व सचिव संजीव कुमार जहां ज़रूरतमंदो की सेवा में जुटे हैं वहीं संस्था की कोषाध्यक्ष कल्पना गांगटा व सदस्य दीपक शर्मा, उमा ठाकुर, सुनीता ठाकुर, रीना, शीतल शर्मा अनुराधा शर्मा आदि अपने अपने स्तर पर समाजसेवा कर रहे हैं।


आयुष साहित्य सदन पंथाघाटी, शिमला