भाजपा सांसद सुब्रत पाठक पर तहसीलदार अरविंद कुमार ने लगाया मां-बहन की गालियां देते हुए जमकर पीटने का आरोप, कहा-मोबाइल भी छीना


शि.वा.ब्यूरो, कन्नौज। तहसीलदार अरविन्द कुमार ने भाजपा सांसद सुब्रत पाठक मां-बहन की गालियों की बौछार करते हुए अपने समर्थकों के साथ जमकर पीटने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सांसद ने मेरा मोबाइल भी छीन लिया।
तहसीलदार अरविंद कुमार की मानें तो जब वे अपने कार्यालय में बैठ कर आवश्यक कार्य निपटा रहे थे तो उनके मोबाइल पर सांसद का फोन आया और कहा कि मैंने आपको जो सूची दी थी, उन्हें अभी तक राशन नहीं मिला है। इस पर तहसीलदार ने सांसद को बताया कि सूची नायब तहसीलदार को दे दी थी। वे राशन वितरित करा रहे हैं और जिन्हें नहीं मिला है, उन्हें जल्दी ही उपलब्ध करा दिया जायेगा। आरोप है कि इस पर सांसद उखड़ गये और मां-बहन की गालियां देने लगे। जब तहसीलदार ने गालियां देने का विरोध किया तो आरोप हैै कि उन्होंने तहसीलदार को फिर से गालियां देते हुए धमकी दी कि जहां बैठे हो मैं वहीं आ रहा हूं।


तहसीलदार ने वस्तुस्थिति से जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी को अवगत कराया तो एसडीएम की सलाह पर वे कार्यालय से उठकर तहसील परिसर में ही स्थित अपने आवास पर चले गये, लेकिन सांसद के 25-30 समर्थक उनके आवास में घुस गये। ऐसे में मेरी पत्नी और बच्ची बुरी तरह डर गयी। इसके बाद जब तहसीलदार कार्यालय में आये तो तहसीलदार की कुर्सी पर बैठे सांसद ने गालियां देते हुए उन्हें थप्पड़ मारकर नीचे गिरा दिया और उनका मोबाइल भी छीन लिया। इसके बाद उनके समर्थकों ने उनके साथ जमकर मारपीट की। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे आला अफसरों ने मामले की जांच के बाद कार्रवाई की बात कही है।