बालाजी जयंती पर प्रशासन के सहयोग से शिव सैनिकों ने जरूरतमंदों को कराया भोजन

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। बालाजी जयंती के महोत्सव के अवसर पर शिवसेना ने भी जरूरतमंदों को खाना खिलाने के लिए आलू और पूरी और हलवे का प्रसाद तैयार कराया। जिसको उन्होंने प्रशासन के सहयोग से गरीबों और भूखे लोगों में वितरित किया। 

इस अवसर पर शिवसेना के जिला प्रमुख बिट्टू  सिखेड़ा ने कहा कि वह खाने का वितरण तो कर रहे है मगर किसी भी गरीब व असहाय व्यक्ति का फोटो सोशल मीडिया पर नहीं डालेंगे। कुछ व्यक्ति ऐसे होते हैं जो भूखा रहना पसंद करते हैं,मगर अपनी फोटो सोशल मीडिया पर या अन्य किसी माध्यम से किसी को देना नहीं चाहते।व्यक्ति भूखा हो सकता है,पर वह भी स्वाभिमानी  होता है।  वह भी कमाकर खाना जानता है। इसका मतलब यह नहीं कि हम उसकी मजबूरी का फायदा उठा कर उसको जगह-जगह नीचा दिखाने की कोशिश करें। इसलिए शिवसेना किसी भी व्यक्ति का फोटो सोशल मीडिया पर नहीं डालेगी। हम जरूरतमंदों को खाना खिलाने के लिए प्रयासरत है और लगे हुए हैं। हम किसी भी व्यक्ति का फोटो नहीं ले रहे,क्योंकि समाज सेवक ढिंढोरा पीटना हमें नहीं आता। अगर किसी भी व्यक्ति को खाने की जरूरत हो तो वह किसी भी समय हमें फोन (9997128011) कर सकता है। हम उस व्यक्ति तक खाना पहुचाएंगे। इस अवसर पर तेजपाल सिंह राणा और गौरव सिंह आजाद जिला सचिव एवं जिला महासचिव विनय बिंदल आदि मौजूद रहे।

बता दें कि कोरोना महामारी के कारण  देश मे 21 दिन का लॉक डाउन चल रहा है। ऐसे में मानवीय आधार पर कई  संगठन सेवा भाव से समर्पित है। कोई गरीबों को खाना खिला रहा है, तो कोई उन्हें जरूरत का सामान पहुंचा रहा है। जिसमें शासन प्रशासन का सहयोग भी विभिन्न संगठनों द्वारा लिया जा रहा है। इस समय कुछ ऐसे लोग भी हैं जिनके पास खाने और राशन का सामान खत्म हो चुका है मगर फिर भी वह अपनी जरूरत का सामान  मांग नहीं पा रहे हैं।  उनको डर है कि कोई उनको जरूरत का सामान तो दे देगा,मगर उनका फोटो भी सोशल मीडिया पर वायरल कर देगा। वास्तव में है यह सच्चाई है कि कुछ लोग जरूरत का सामान तो पहुंचा रहे हैं मगर उनका फोटो भी तुरंत ले रहे हैं। समाज सेवा का ढिंढोरा भी पीट रहे हैं।