कोरोना वाइरस का खोफ रहा बेअसर, खूब खेली होली

शि.वा.ब्यूरो, खतौली। त्यौहार वाकई जिंदगी में प्यार और मोहब्बत के रंग जरूर घोल देते है, इसीलिये देश मे हर बड़े त्योहार चाहे वे किसी भी समाज के हो, जिनमे होली, ईद, दिवाली के त्यौहार लोगों में नफरत मिटाकर आपसी प्रेम को जन्म देते है। इसी क्रम में होली का त्यौहार आपसी भाईचारे और धूमधाम के साथ मनाया गया। लोगों ने एक-दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर खुशिया बाटी।


बता दें कि जहाँ देश भर में कोरोना वायरस का खौफ लोगो को डरा रहा है, वही इसका कोरोना का खौफ होली के रंगों में खोता नजर आया और होली का त्यौहार धूमधाम से मनाया गया। लोगों ने एक-दूसरे को रंग-गुलाल लगाकर खुशियां बांटी। सड़कों पर मस्तानों की टोलियां ढोल नगाड़ों की धुनों पर नाचती रही। घरों में भी पकवानों की खुशबू महकती रही। कई स्थानों पर लोगों ने सामूहिक रूप से होली खेली। बुजुर्ग, महिलाएं, पुरुष और बच्चों ने जमकर मस्ती की। हर तरफ होली को लेकर दिन भर चहल-पहल रही। इस दौरान पुलिस प्रशासन भी लगातार अलर्ट रहा नगर व देहात की गली मोहल्लों से लेकर सभी संवेदनशील इलाकों में पुलिस टीम हुड़दंगियों को चेतावनी देती नजर आयी और शांति और प्रेम भाव के साथ त्योहार को मनाने की अपील भी करती रही।


मंगलवार की सुबह से ही नगर के युवा टोली बनाकर डीजे, ढोल ताशे में नाचते गाते एक-दूसरे को गुलाल लगाकर होली की बधाइयां दी। बच्चों ने रंग बिरंगे बाल, मुखौटे लगाकार एक दूसरे को गुलाल लगाकर होली की बधाई दी। इसके अलावा नगर के प्रमुख चौक चौराहों में स्वल्पाहार सहित ठंडाई की भी व्यवस्था की गई थी। विश्कर्मा मंदिर परिसर में होली मिलन समारोह का आयोजन किया गया था, जिसमें बडी संख्या में युवती एवं महिलाओं ने भजन कीर्तन किया। उसके बाद गुलाल एवं फूलों से होली खेली।