श्री रामलीला महोत्सव का शुभारंभ किया

गौरव सिंघल, देवबंद। ऐतिहासिक श्री रामलीला मंच पर प्रभु श्री राम की  लीलाओं का विधिवत शुभारंभ फीता काटकर दि दून वैली पब्लिक स्कूल के चेयरमैन अनुराग सिंघल व उनके परिवार द्वारा किया गया। इस अवसर पर अनुराग सिंघल ने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम जी ने जिस तरह अपना जीवन जिया था ठीक उसी प्रकार हमें भी ऐसा ही जीवन जीने की जरूरत है। 

अनुराग सिंघल ने कहा कि आज हम सभी को श्रीराम के अलौकिक जीवन से प्रेम की जरूरत है। उन्होंने कहा कि देवबंद में बीते लंबे समय से हो रही रामलीला सामाजिक सद्भावना, समरसत्ता की प्रतीक है। उन्होंने कहा कि इस रंगमंच से देवबंद की साझा संस्कृति और भाईचारे की  खुशबू आती है। 
बीती रात रामलीला रंगमंच पर आरती पूजन के बाद श्री राम लीला का मंचन शुरू हुआ। मंचन शुरू होते ही सबसे पहले नारायण- नारायण बोलते हुए नारद मुनि प्रकट होते हैं। नाराज मुनि तपस्या करने बैठ जाते हैं। जहां इससे घबराए देवराज इंद्र उनका तप भंग करने के लिए कामदेव को भेजते है लेकिन कामदेव सफल नहीं हो पाते है। रामलीला का का गणेश पूजन पंडित कालिका प्रसाद व पंडित कैलाश शर्मा द्वारा किया गया। मंच कार्यक्रम का संचालन देवी दयाल शर्मा एडवोकेट ने किया। ट्रस्ट के संस्थापक-अध्यक्ष राकेश  सिंघल, कार्यकारी अध्यक्ष राजीव गुप्ता और समाजसेवी अशोक गुप्ता ने अपने-अपने विचार रखे। 

उद्घाटन में सुमन सिंघल, रेनू सिंघल, चिराग सिंघल, डॉ. बिजेंद्र गोयल, प्रवीण जैन, अंकित जैन, आरएसएस के आशुतोष गुप्ता, सभासद विनय कुच्छल, अरविंद गुप्ता, पूर्व सभासद हरिओम सिंघल, अनुज अग्रवाल, हरिकृष्ण मल्होत्रा, अजय गर्ग, नरेंद्र बंसल, अरविंद बंसल, चौधरी लोकेश गर्ग, पुनीत बंसल, घनश्याम गुप्ता, सुभाष कुच्छल, पवन धीमान, संजय सैनी, राजकुमार जाटव, विशाल,गर्ग, श्याम चौहान, विकास चौधरी, अमित सिंघल एडवोकेट, राजू सैनी, मनोज बंसल, नितिन गर्ग आदि उपस्थित रहे।