इश्क

डॉ. अ कीर्तिवर्ध, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

इश्क करना भी गुनाह, 
अगर बेमेल होता है,
इससे भी बडा गुनाह, 
अगर फैल होता है
इश्क का मतलब, 
खुद को कुर्बान कर देना,
तुम नही और सही, 
इश्क नही खेल होता है
मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश।