फितूर में आदित्य-कैटरीना पर भारी पडी तब्बू की एक्टिंग (शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र के वर्ष 12, अंक संख्या-30, 21 फरवरी 2016 में प्रकाशित लेख का पुनः प्रकाशन)


चार्ल्स डेकस की नाॅवल द ग्रेट एक्सपेक्टेशन्स पर बेस्ड डायरेक्टर अभिषेक कपूर की फिल्म फितूर कश्मीरी लड़के नूर (आदित्य राॅय कपूर) और उनकी लव-इंटरेस्ट फिरदौस (कैटरीना कैफ) की कहानी है। फिल्म में बेगम हरजत का किरदार तब्बू ने निभाया है। 
कहानी के अनुसार 13 साल की उम्र में नूर को बेगम की बेटी फिरदौस से प्यार हो जाता है, लेकिन प्यार में छोखा खा चुकी बेगम को ये रास नहीं आता और वह अपनी बेटी को करियर बनने के लिए श्रीनगर से दिल्ली भेज देती है। समय गुजरता है और नूर भी फिरदौस के पीछे दिल्ली चला आता है। दिल्ली जाकर वह फिरदौस के सोशल सर्कल में फिट होने की कोशिश करता है, वहीं बेगम दोनों को अलग करने में जुटी रहती है। क्या इनका प्यार मुकम्मल हो पाता है, यह जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।
फिल्म का स्क्रीनप्ले आपका ध्यान बटोर लगे। हर एक फ्रेम पर बारिकी से काम किया गया है। अमित त्रिवेदी ने दिल को छू लेने वाले गाने दिए है। पश्मीना, फितूर, बतियां सभी कहानी आपको पसंद आएगें। हितेश सोनिक का बैकग्राउंड म्यूजिक भी आपको बांधे रखेगा।
एक्टिंग की दृष्टि से फिल्म की शो-स्टीलर बेशक बेगम ;तब्बूद्ध है, जिन्होंने बेहद ही सादगी से अपना किरदार निभाया। आदित्य और कैटरीना के बचपन का किरदार निभाने वाले चाइल्ड आर्टिस्ट ने उम्दा अभिनय किया है, वहीं आदित्य ही मेहनत हर फ्रेम में दिखी हैं। तो कैटरीना ने अपनी खूबसूरत से पिक्चर परफेक्ट बनाया है। अदिति राव हैदरी, अजय देवगन, लारा दत्ता, राहुल भट्ट ने भी ठीक-ठाक काम किया है। फिल्म की कमजोर कड़ी इसकी उल्टी-पुल्टी स्क्रिप्ट मना जा सकता है। फिल्म में अजय देवगन को लिया गया है, लेकिन उनके किरदार को पूरी तरह से कैश नहीं किया गया, वहीं अदिति राव हैदरी को तब्बू के किशोरावस्था के तौर पर देखना भी थोड़ा अजीब लगता है। इन सब को छोड़ दिया जाए तो कहानी अच्छी है और आदित्य, कैटरीना और तब्बू की बेहतरीन एक्टिंग के लिए देखी जा सकती है।