छोटे भाई सौरभ भानु कटियार पर कविता
मालती देवी, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

 

कमालगंज  कर्मभूमि   में, 

करते     नित्य    कमाल ।

युवाशक्ति को आज जगाया,

 सब   मिलकर    धमाल ।।

 

सत्यमार्ग के तुम अनुगामी, 

चमके      तेरा     भाल  ।

देशप्रेम पर मर मिटने हित ,

आता    रुधिर     उबाल  ।।

 

आंदोलन जनजन पहुंचाओ, 

जग   में    बनो    विशाल ।

उत्तर समुचित देना सीखो,

 जब   कोई  करे सवाल ।।

 

समरसता का भाव जगाओ,

रहे    सभी     खुशहाल ।

हिंद देश फिर विश्व गुरु बन,

 होवे          मालामाल ।।

 

पीड़ितजन के बनो मसीहा,

 जिनका    हाल   बेहाल ।

 मुखर वृक्ति के बनो योद्धा ,

 रहे   न   कोई    मलाल ।।