भारतीय अति पिछड़ा वर्ग संघर्ष मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहन प्रजापति ने दी चेतावनी, कहा-पिछडो का शोषण नही रुका तो हो सकता है टकराव

शि.वा.ब्यूरो, मैनपुरी। भारतीय अति पिछड़ा वर्ग संघर्ष मोर्चा के पदाधिकारियों ने राजबहादुर प्रजापति को परिवार सहित दबंगों द्वारा घर में आग लगाकर मारने के आरोपियों को सजा दिलाने की मांग को लेकर एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम जिला अधिकारी को दिए ज्ञापन में बताया है कि मैनपुरी के माधो नगर खरपरी में 18 जून को दबंगों द्वारा राजबहादुर प्रजापति के घर को रात्रि में बाहर से कुंडी लगा कर आग लगा दी थी, ताकि राजबहादुर को परिवार सहित मारा जा सके।

भारतीय अति पिछड़ा वर्ग संघर्ष मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहन प्रजापति ने बताया कि इस हृदय विदारक घटना में  महिलाओं व बच्चों सहित तीन लोगों की मौत हो गई और 3 लोग गंभीर अवस्था में मौत व जिंदगी से जूझ रहे हैं। इस मामले में पुलिस द्वारा मुरारी को गिरफ्तार किया गया है, लेकिन पीड़ितों ने होश में आने के बाद दबंग व्यक्ति ठाकुर संजय सिंह को मुख्य आरोपी बताया है, जिसे पुलिस बचाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में अति पिछड़े वर्ग के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है और उनको जान माल की हानि पहुंचाने की साजिश रची जा रही है, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने ज्ञापन में मांग की है कि सरकार इस पूरे मामले की उच्च स्तरीय जांच कराकर पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने का काम करें और सभी आरोपियों को सख्त से सख्त सजा मिले, पीड़ित परिवार को एक करोड़ की आर्थिक सहायता व सरकारी नौकरी दें और घायलों को उच्च चिकित्सा दें।  उन्होंने कहा कि अति पिछड़ा वर्ग का उत्त्पीडऩ रोकने के लिए सरकार ठोस कदम उठाए नहीं तो प्रदेश में टकराव की स्थिति बनेगी, जिसकी जिम्मेदार सरकार होगी।

इस दौरान प्रभारी रामनिवास प्रजापति एडवोकेट, संजीव प्रजापति ,महासभा जिलाध्यक्ष प्रमोद प्रजापति, महेंद्र कुमार एडवोकेट, एडवोकेट राजकुमार कश्यप, जिला अध्यक्ष रामपाल सिंह पाल, मोहित प्रजापति, रीना एडवोकेट आदि मौजूद रहे।