काशी


डॉ. अवधेश कुमार "अवध", शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

 


बनारस  में  भगीरथ  गंग की शुचि धार होती है,

सभी  की  जिंदगी  इस नीर से भव पार होती है।

 

पिनाकाकार  गंगा  के  तटों पर राजती काशी,

पहर आठों शिवालय में महा जयकार होती है।

 

छने भाँगों की बूटी  भस्म काया भाल पर टीका,

त्रिफल डमरू गले में साँप की फुँफकार होती है।

 

कबीरा  दास  तुलसी  संत  कीनाराम  रैदासा,

सगुण निर्गुण भजन रस से धरा गुलजार होती है।

 

अघोरी  पान  साड़ी सांड़ सीढ़ी और सन्यासी,

अवध शिक्षा सुसंस्कृति सभ्यता संचार होती है।

 


इंजीनियर प्लांट, मैक्स सीमेंट

चौथी मंजिल, एल बी प्लाजा,

जीएस रोड, भंगागढ़, गुवाहाटी

आसाम - 781005