प्रदेश के सभी जिलों के अफसरों के साथ लगातार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे हैं सीएम योगी, दे रहे आवश्यक दिशा-निर्देश



शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में लागू लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा के दौरान कहा कि सील किए गए सभी हाॅटस्पाट क्षेत्रों में केवल मेडिकल, सेनिटाइजेशन व डोर स्टेप डिलीवरी टीमों का ही आवागमन हो और सील किए गए इलाकों में डोर स्टेप डिलीवरी व्यवस्था को सुदृढ़ और प्रभावी बनाया जाए। उन्होंने कहा कि हाॅटस्पाट क्षेत्रों को सेक्टरवार विभाजित करते हुए प्रत्येक क्षेत्र में मजिस्ट्रेट की तैनाती की जाये।
सीएम योगी ने सील किए गए क्षेत्रों में सर्विलांस गतिविधियों को बढ़ाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि सभी राजकीय अस्पतालों और मेडिकल काॅलेजों में उपलब्ध वेन्टिलेटर्स का ऑडिट कराए और क्वारेंटाइन सभी व्यक्तियों से सीएम हेल्प लाइन 1076 के माध्यम से सम्पर्क कर कुशलक्षेम की जानकारी ली जाए। सीएम ने कहा कि घर से बाहर निकलने पर हर व्यक्ति द्वारा फेस कवर, मास्क का प्रयोग करना अनिवार्य है। सभी के लिए चेहरे को कपड़े, रुमाल, गमछा, दुपट्टा से ढके जाने को अनिवार्य किया जाये। उन्होंने कहा कि आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप का व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं।
बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश के सभी जिलों के अफसरों के साथ लगातार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे हैं। वीसी में जिलाधिकारी और कप्तानों के अलावा सीएमओ भी जुड़े हैं। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री लॉक डाउन और हॉटस्पॉट सीलिंग को लेकर लगातार समीक्षा कर रहे हैं। अस्पतालों में उपकरणों और दवाओं की उपलब्धता को लेकर पूरी जानकारी लेते हुए अफसरों को लगातार निर्देशित भी कर रहे हैं।



उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्थी ने कहा कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति जहां ज्यादा पाए गए हैं, उन्हीं जिलों के हॉटस्पॉट चिन्हित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि अगर लोग वहां पर आवागमन करते तो संक्रमण फैल सकता था, इसलिए संक्रमण फैलने से रोकने के लिए कंपलीट लॉक डाउन किया गया है। उन्होंने बताया कि कुछ ऐसी सूचनाएं आ रही थी, कि संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में हो रहा है। यह संक्रमण व्यक्ति से परिवार या फिर मिलने वाले लोगों को संक्रमण हो सकता था।
डीजीपी ने बताा कि डोर स्टेप पर सभी को आवश्यक सेवाएं मिले उसकी व्यवस्था की गई है। वाहनों और बाहर के लोगों का आवागमन हॉटस्पॉट पर रोका गया है। उन्होंने कहा कि संक्रमित व्यक्ति अगर दूसरी जगह जाएगा तो वहां पर भी संक्रमण को सकता है, इसलिए पूरी सावधानी बरत रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोई बाहर ना निकले संक्रमण फैलने से रोकने के हर कदम उठाए गए हैं। सभी हॉटस्पॉट पर लगातार सैनिटाइजेशन किया जा रहा है। डीजीपी ने कहा कि लॉक डाउन तोड़ने वालों पर विधिक कार्यवाही की जा रही है। पुलिस और प्रशासन की गाड़ियां पेट्रोलिंग कर लगातार अपील कर रही हैं। उन्होंने कहा कि पूरी टीम खाद्य रसद विभाग सभी जगह राशन और आवश्यक सामग्री पहुंचा रही है। सील हॉटस्पॉट क्षेत्रों में भी राशन और आवश्यक सेवाएं पहुंचाई जा रही हैं।