सहारनपुर जिले में 113 लेखपालों को नियुक्ति पत्रों का वितरण किया

गौरव सिंघल, सहारनपुर। मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्यनाथ द्वारा लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में मिशन रोजगार के तहत उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया के तहत 7720 पदों पर चयनित लेखपालों को नियुक्ति पत्र प्रदान किए गये। लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम का पाईनवुड ऑडिटोरियम में सजीव प्रसारण किया गया। कार्यक्रम में जनपद की पांचों तहसीलों के 113 नव नियुक्त लेखपालों को जिला पंचायत अध्यक्ष, जिलाधिकारी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन द्वारा नियुक्ति पत्रों का वितरण किया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी अलग-अलग जनपदों में चयनित युवा प्रतिभाओं को प्रदेश की सेवा में आने के लिए शुभकामनाएं देते हुए परिजनों को बधाई दी। उन्होंने चयनित 7720 लेखपालों को उनके कर्तव्यों के प्रति आगाह किया। 

उन्होंने कहा कि ये नियुक्ति प्रक्रिया पूरी ईमानदारी और पारदर्शिता के साथ संपन्न हुई है। इसमें कहीं कोई भेदभाव नहीं हुआ, कोई सिफारिश की आवश्यकता नहीं पड़ी। ऐसे में ये आपकी जिम्मेदारी बनती है कि बिना किसी सिफारिश के प्रदेश में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के साथ ही एक गरीब की ईज ऑफ लिविंग के लिए आपको अपने स्तर पर विशेष कार्य करना है। एक गरीब के जीवन के लिए आपकी ऊर्जा और प्रतिभा लगे, निवेश की संभावनाओं में आपका सकारात्मक सहयोग मिले। जाति, निवास, आय प्रमाणपत्र के लिए जो समय सीमा तय की गई है उसके अनुसार आम जनमानस और युवाओं को सहयोग प्राप्त हो। वरासत, नामांतरण और पैमाइश से जुड़ी कार्यवाही समय से पूरी हों। लोगों के बीच में आपकी अच्छी छवि बने। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा पिछले 7 वर्षाे से नियुक्ति प्रक्रिया निष्पक्ष रूप से चल रही है। इसकी वजह से 6 लाख से ज्यादा युवा प्रदेश की उन्नति मे सहयोग दे रहे है। पुलिस विभाग में ही अकेले एक लाख 55 हजार युवा भर्ती किए गए। अब बिना भेदभाव और आरक्षण नियमों का पालन करते हुए युवा योग्यता के अनुरूप भर्ती हो रहे हैं। नियुक्ति प्रक्रिया में निष्पक्षता से युवाओ में विश्वास आया है। युवाओं का विश्वास ही हमारी ताकत है। उन्होंने कहा प्रदेश में युवा का सम्मान होता है। अध्यक्ष जिला पंचायत  मांगेराम चौधरी ने चयनित लेखपालों को बधाई देते हुए कहा कि वर्तमान में सभी को योग्यता के आधार पर रोजगार मिल रहा है। पूर्ण पारदर्शिता के साथ नियुक्ति पत्र वितरित किए जा रहे हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि नव चयनित युवा अपने विभागीय दायित्वों का बखूवी निर्वहन करेंगे और अपने दायित्वों को निष्पक्षता के साथ पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से निभाएंगे। 

जिलाधिकारी मनीष बंसल ने सभी नव नियुक्त लेखपालों को बधाई एवं शुभकामनाएं देने के साथ ही उन्हे कर्तव्यबोध कराते हुए कहा कि लेखपाल राजस्व विभाग के साथ-साथ सम्पूर्ण प्रशासनिक ढांचे की नींव एवं महत्वपूर्ण कडी है इसलिए अपनी जिम्मेदारियों को समझते हुए संवेदनशीलता एवं मेहनत के साथ कार्य करें। राजस्व से संबंधित अधिनियमों एवं नियमावलियों का गहनता से अध्ययन करते हुए शासन एवं प्रशासन की अपेक्षानुसार नियमों के दायरे में रहते हुए कार्य करें। अपने शुरूआती कार्यकाल में उत्सुकता के साथ कार्य करें। समस्या आने पर अपने वरिष्ठ अधिकारियों से मार्गदर्शन लें। 

उन्होने कहा कि समस्याओं को टालना नहीं है बल्कि उनका समाधान निकालना है। सभी लेखपाल अपने-अपने नियुक्ति क्षेत्र में भ्रमण करते रहें एवं निरंतर लोगों के सम्पर्क में रहें। आमजन की समस्याओं का निष्पक्षता, ईमानदारी और संवेदनशीलता के साथ निस्तारण करें। विकास एवं जन कल्याण संबंधी योजनाओं के क्रियान्वयन में अपनी अहम भूमिका निभाएं, जिससे अधिक से अधिक पात्रों को योजनाओं का लाभ मिल सके। इस अवसर पर प्रतिनिधि राज्यमंत्री संसदीय कार्य एवं औद्योगिक विकास  कृष्ण सैनी, अपर जिलाधिकारी प्रशासन डॉ0 अर्चना द्विवेदी, समस्त उपजिलाधिकारी एवं तहसीलदार तथा नव नियुक्त लेखपाल एवं उनके परिजन उपस्थित रहे। 


Comments
Popular posts
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धरेच में आयोजित दश दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर सम्पन्न
Image
एडीएम वित्त ने मारा छापा, तहसील के क्वार्टर में सरकारी कामकाज करते पकड़ दो बाहरी व्यक्ति
Image
लेखपालों के पास कुछ प्राइवेट हेल्परों को कार्य करते हुए रंगे हाथ पकड़ा
Image
जिलाधिकारी मनीष बंसल ने किया कलेक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण
Image
राजस्व परिषद के अध्यक्ष डॉ0 रजनीश दुबे ने किया कलैक्ट्रेट के विभिन्न पटलों, कंट्रोल रूम का निरीक्षण, राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक भी की, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी के पेशकार को निलम्बित करने के निर्देश
Image