रैन बसेरे में सही व्यवस्था नहीं पाए जाने पर डीएम ने जताई नाराजगी, शाकुम्भरी विश्वविद्यालय के निर्माण कार्यों एवं पुवांरका स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का किया औचक निरीक्षण

गौरव सिंघल, सहारनपुर। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह एवं मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार ने माँ शाकुम्भरी विश्वविद्यालय के निर्माण कार्यों में प्रगति और पुवांरका स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में रैन बसेरे एवं अन्य व्यवस्थाओं का औचक निरीक्षण किया। विश्वविद्यालय के निर्माण कार्यों में प्रगति के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिये कि निर्माण कार्य को निर्धारित मानकों के अनुसार गुणवत्ता एवं समयबद्धता तथा लक्षित तिथि से पूर्व ही पूर्ण कर लिया जाए। 

उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का निर्माण शासन की उच्च प्राथमिकता है इस कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही स्वीकार्य नहीं होगी। उन्होंने निर्देश दिए कि विश्वविद्यालय सदैव के लिए होते है इसलिए कार्य की गुणवत्ता से किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय का निर्माण जल्दी हो ताकि मुख्यमंत्री की प्राथमिकता के अनुसार इसमें पठन-पाठन कार्यों में तेजी लाई जा सके। 

डीएम ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पुंवारका के निरीक्षण के दौरान रैन बसेरे में पर्याप्त रोशनी, बैड एवं साफ-सफाई की सही व्यवस्था नहीं पाए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए यथाशीघ्र पूरी व्यवस्था पूर्ण करने के निर्देश दिये तथा ठण्ड से बचाने के लिए तीमारदारों के लिए पूर्ण व्यवस्था की जाए। इसके साथ ही साथ उन्होने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के आपातकालीन वार्ड एवं उपस्थिति रजिस्टर, दवाओं की उपलब्धता एवं खपत संबंधी रजिस्टर का अवलोकन किया। 

उन्होने निर्देश दिये कि चिकित्सालय परिसर में साफ-सफाई, दवाओं की उपलब्धता तथा एक रजिस्टर में मरीज का नाम, मोबाइल नम्बर एवं दी गयी दवाओं का विवरण हो, ताकि कभी भी निरीक्षण के दौरान उनका वैरीफिकेशन किया जा सके। उन्होने प्रभारी चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि रजिस्टर में दवाओं का अंकन सही किये जाने के साथ ही रैन बसेरे में ठण्ड से बचाव के पर्याप्त इंतेजाम के साथ बेहतर साफ-सफाई व कोविड निर्देशों का कडाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। 

निरीक्षण के दौरान कार्यदायी संस्था के कर्मचारी तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के निरीक्षण के दौरान प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ0 देशराज एवं चिकित्सालय का स्टाफ उपस्थित रहा।