कोरोना वायरस का बढ़ता प्रकोप 


अमित डोगरा,  शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।


मध्य चीन के वुहान शहर में 2019 के मध्य दिसंबर से एक नए किस्म के कोरोना वायरस के संक्रमण की शुरुआत हुई है। एक अनुमान के अनुसार यह देखा गया कि बहुत से लोगों को बिना किसी कारण निमोनिया होने लगा और पीड़ित लोगों में से अधिकतर लोग हुआन सीफूड मार्केट में मछली भेजते हैं तथा जीवित पशुओं का भी व्यापार करते हैं। 20 जनवरी 2020 को चीनी प्रीमियर लीग केकियांग ने नोबेल कोरोना वायरस के कारण फैलने वाली निमोनिया बीमारी को नियंत्रित और रोकने के लिए प्रभावी और निर्णायक प्रयास करने का आग्रह किया है। इस वायरस से चीन में मानव से मानव संचरण के अधिक प्रमाण है। इसके अतिरिक्त ताइवान, दक्षिण कोरिया ,थाईलैंड, मकाऊ, सिंगापुर नाम मे भी इस वायरस की पुष्टि के मामले सामने आए हैं। इस वायरस में पीड़ित व्यक्ति में बुखार, खांसी, सांस की तकलीफ और दस्त हो सकते हैं और मामूली से बहुत गंभीर भी हो सकते हैं। 2019 -n cov के प्रसार को रोकने के लिए कम से कम 20 सेकंड के लिए साबुन और पानी से हाथ धोएं, खासकर बाथरूम जाने के बाद, खाने से पहले और नाक बहने के बाद, खांसने या छीकने के बाद भी। यदि साबुन और पानी आसानी से उपलब्ध नहीं है तो अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का उपयोग भी कर सकते हैं। 2019 -n cov होने के संदेह वाले रोगियों के साथ सीधी बातचीत करने वाली हेल्थ केयर पेशेवरों को सलाह दी जाती है। जनसाधारण से अनुरोध है कि उनकी अपनी सुरक्षा उनके अपने हाथों में है, इसलिए पूरी सावधानी से प्रत्येक वस्तु का प्रयोग करें।                 

 

पीएचडी शोधकर्ता, गुरु नानक देव विश्वविद्यालय, अमृतसर