एसडी कालेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलोजी में बायोटैक्नोलेजी विभाग ने बनाया एलोवीरा सेनेटाईजर


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। कोरोना ने पूरे विश्व को झकझोंर कर रख दिया है। स्वास्थ्य विभागों द्वारा जनहित में ऐसे सभी उपायों को प्रचारित व प्रकाशित किया जा रहा है, जिससे की लोग कोरोना के प्रभाव से अपने आप को मुक्त रख सकें और इस महामारी से बच सकें। जनपद की अग्रणी संस्था एसडी कालेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलोजी के बायोटैक्नोलोजी विभाग के शिक्षकों ने विभागाध्यक्ष डा0 नवीन द्विवेदी के नेतृत्व में कैम्पस को सेनेटाईज किया गया एवं शिक्षकों और गैर शिक्षक कर्मचारियों को कोरोना से बचाव के लिये उपाय बताते हुये विभाग की लैब में खुद तैयार किया गया एलोवीरा सेनेटाईजर वितरित किया। डा0 द्विवेदी ने बताया कि यह सेनेटाईजर एलोवीरा की पल्प एवं अन्य उपयोगी तत्वों को मिलाकर बायोटेक लैब में तैयार किया गया है ये बाजार में आने वाले अन्य सेनेटाईजर्स से काफी सस्ता एवं गुणवत्ता में अच्छा है। 



संस्थान के अधिशासी निदेशक प्रो0 (डा0) एसएन चौहान ने कहा कि ज्ञान वही जो उपयोगी है और वक्त पर काम आये। हमारे शिक्षकों ने यह सिद्ध किया है कि वे तकनीक एवं उसके उपयोग में भी कुशल है। संस्थान को पूर्णत सेनेटाईज कराया गया है। डिटाल तथा अन्य इनसेक्टिसाइड से पूरे कैम्पस में स्प्रे कराया गया। नाली तथा अन्य स्थानों को अच्छी तरह से धोया और साफ किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रदत्त बैनर एवं प्रचार सामग्री भी स्थान-स्थान पर चस्पा की गई, क्योंकि जागरूकता एवं जानकारी ही सर्वोत्तम बचाव है। प्राचार्य डा0 एके गौतम ने बायोटैक्नोलोजी विभाग के विभागाध्यक्ष डा0 नवीन द्विवेदी व उनके सहयोगी शिक्षकों को धन्यवाद दिया और कहा कि पेनिक न फैलाये, बल्कि जानकारी हाँसिल कर अपने आप को सुरक्षित रखें।